April 19, 2024
  • होम
  • अजमेर शरीफ़ दरगाह में भिड़े ज़ायरीन और खादिम, नारेबाजी का VIDEO वायरल

अजमेर शरीफ़ दरगाह में भिड़े ज़ायरीन और खादिम, नारेबाजी का VIDEO वायरल

  • WRITTEN BY: Amisha Singh
  • LAST UPDATED : January 30, 2023, 6:17 pm IST

अजमेर: Dargah Ajmer News : रजब के महीने का आगाज़ हो चुका है। मशहूर सूफी संत हज़रत ख़्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती का सालाना उर्स बड़े ही एहतेराम से मनाया जा रहा है। इस उर्स में देश-विदेश से हज़ारों की तादाद में अक़ीदतमंदों ने दरगाह में हाज़िरी दी। दरगाह में हज़रत मोईनुद्दीन चिश्ती की ज़ियारत के लिए बड़ी तादाद में अक़ीदमंदों आने.जाने का सिलसिला शुरू हो गया था। इन्हीं सब के बीच अजमेर शरीफ़ दरगाह से मर्माहत करने वाली ख़बर सामने निकल कर आ रही है।

जायरीन और खादिम आपस में भिड़े

खबर के मुताबिक, अजमेर के ख़्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में जायरीन और खादिमों के बीच जमकर मारपीट हुई है। दोनों तरफ के लोगों ने एक दूसरे पर बेहरहमी से लात-घूँसे चलाए। बताया जा रहा है कि, दोनों तरफ के लोगों में बेरहमी से मार-पिटाई हुई। एक विवादित नारे को लेकर पूरा मसला शुरू हुआ जिसके बाद विवाद हाथा-पाई और मार-पीट तक पहुँच गया।

 

विवादित नारे पर हुआ बवाल

मामले की इत्तिला मिलते ही पुलिस फ़ौरन पहुँची जिसके बाद पुलिस के दखल से मामले को शांत कराया गया। इल्ज़ाम है कि दरगाह अजमेर में सालाना उर्स के दौरान वहाँ के कुछ जायरीनों ने विवादित नारा लगाया जिसके बाद हंगामा शुरू हो गया। इस बात का दरगाह के खादिमों ने जमकर विरोध किया तो मामला और ज़्यादा गर्मा गया। इसी हंगामे को सुनकर खादिम जन्नती दरवाजे के पास पहुँचे। खादिमों ने जायरीनों को रोकने की कोशिश की लेकिन जब वह नहीं माने तो विवाद इतना बढ़ गया और हंगामे के बाद मारपीट शुरू हो गई। यही नहीं इस पूरे मामले का वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

 

 

 

मुल्जिमों पर हो कार्रवाई

हंगामे की ख़बर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँची जिसके बाद थाना प्रभारी अमर सिंह भाटी समेत पुलिस के दस्ते ने मामला शांत कराया। इस हंगामे में बरेलवी और दरगाह के खादिम शामिल थे। बहरहाल इस मामले में अभी तक कोई तहरीर दर्ज़ नहीं हुई है। इस मामले पर खादिमों के इदारे के सिचव सैयद सरवर चिश्ती ने नाराज़गी ज़ाहिर की है। सैयद सरवर चिश्ती ने प्रशासन को एक चिट्ठी लिखी हैं जिसमें तमाम मुल्ज़िमों के खिलाफ़ सख्त कार्रवाई की दरख़्वास्त की गई है। इधर पुलिस ने भी कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

 

जानकारी के लिए बता दें, रजब की 9 तारीख़ यानी कि 1 फरवरी को बड़े क़ुल की रस्म अदा की जाएगी। इस अहम रस्म में भी हज़ारों लोग शरीक होंगे। उर्स के मौक़े पर मुल्क में शांति और आपसी इत्तिहाद व फैज़ की दुआ की गई।

 

यह भी पढ़ें

 

मुल्तानी मिट्टी से धोएं बाल, एक ही बार में हो जाएंगे मुलायम व बेहद ख़ूबसूरत

Relationship: क्या है तलाक-ए-हसन? जानिए इस्लाम में कितने तरीके के होते हैं तलाक

 

 

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो