April 13, 2024
  • होम
  • सत्येंद्र जैन से महज 500 मीटर की दूरी पर कैद होंगे सिसोदिया, तिहाड़ में मनेगी होली

सत्येंद्र जैन से महज 500 मीटर की दूरी पर कैद होंगे सिसोदिया, तिहाड़ में मनेगी होली

  • WRITTEN BY: Riya Kumari
  • LAST UPDATED : March 6, 2023, 6:43 pm IST

नई दिल्ली: दिल्ली के कथित शराब नीति घोटाले में CBI ने पूर्व उपमुखयमंत्री मनीष सिसोदिया को बीते दिनों आठ घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया था. इसके बाद दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने उन्हें पांच दिन की रिमांड में भेज दिया था जिसके बाद आज उनकी रिमांड ख़त्म हुई लेकिन उन्हें तिहाड़ भेज दिया गया. राउज़ एवेन्यू कोर्ट ने 20 मार्च तक मनीष सिसोदिया को तिहाड़ जेल भेज दिया है. इस दौरान उन्हें अपने साथ भगवद गीता, पेन और डायरी साथ रखने की इजाज़त दी गई है.

कैसे कटेगा सिसोदिया का समय?

हैरानी की बता ये है कि दिल्ली के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के सेल से सिसोदिया के सेल की दूरी सिर्फ 500 मीटर रहने वाली है. गौरतलब है कि मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सत्येंद्र जैन भी पिछले नौ महीने से जेल में बंद हैं. जहां सिसोदिया को जेल नंबर 1 में रखा जाएगा और जैन जेल नंबर 7 में हैं. दोनों सेल के बीच में कई सीमाएं भी हैं. मुश्किल से ही दोनों की मुलाकात या कोई बातचीत हो सकती है.

सवाल ये भी उठता है कि मनीष सिसोदिया का समय कैसे कटेगा. तो बता दें, उन्होंने जेल में अपने साथ भगवद गीता ले जाने की इज़ाज़त मांगी थी. बता दें, सिसोदिया की ओर से कोर्ट में उन्हें विपाश्यना सेल में रखे जाने की मांग की गई थी लेकिन कोर्ट ने इतना ही कहा जेल प्रशासन इस पर फैसला सुनाएगा. ऐसे में ये बात तो साफ़ है कि सिसोदिया और सत्येंद्र जैन दोनों की होली जेल में ही बीतेगी.

दिल्ली की सियासत में उबाल

दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की गिरफ्तारी के बाद से ही दिल्ली की सियासत उबाल मर रही है. दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल लगातार केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साध रहे हैं. कुछ ही समय पहले उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि उनकी हजारों लोगों से बात हुई और जनता में इस गिरफ्तारी को लेकर रोष भरा हुआ है. इसके अलावा उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया था कि पंजाब की जीत को लेकर ये कार्रवाई की गई है क्योंकि इस समय सरकार पंजाब में आम आदमी पार्टी को देख नहीं पा रही है. उनके शब्दों में, ‘इनसे बर्दाश्त नहीं हो रहा.’ इतना ही नहीं सीएम केजरीवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी से भी कर चुके हैं.

कारगिल युद्ध के साजिशकर्ता थे मुशर्रफ, 1965 में भारत के खिलाफ लड़े थे युद्ध

Parvez Musharraf: जानिए क्या है मुशर्रफ-धोनी कनेक्शन, लोग क्यों करते हैं याद

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो