IND Cricket: पूर्व कोच रवि शास्त्री ने बताया दो वर्ल्ड कप में हार की वजह, कहा हार्दिक के कारण…..

नई दिल्ली। भारतीय टीम के पू्र्व कोच रवि शास्त्री ने ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। शास्त्री भारतीय टीम के दो वर्ल्ड कप और वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में मिली हार के पीछे की कारण पर चर्चा कर रहे थे।

टॉप-6 में चाहते थे ऑलराउंडर

60 वर्षीय शास्त्री ने सोमवार को एक कार्यक्रम के दौरान इंडियन क्रिकेट पर चर्चा करते हुए कहा कि मैं हमेशा से प्लेइंग-11 के टॉप 6 बल्लेबाजों में एक ऐसा खिलाड़ी चाहता था, जो की बल्लेबाजी के साथ-साथ बॉलिंग भी कर सके। लेकिन बेहतरीन ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के उस समय हुई इंजरी के कारण वो बॉलिंग करने में असर्मथ थे। इस कारण मैं परेशानी में पड़ गया था।

चयनकर्ताओं से भी की थी बात

पूर्व कोच शास्त्री ने आगे कहा कि हार्दिक के चोट का हर्जाना हमें दो वर्ल्ड कप की हार के साथ गंवाना पड़ा। क्योंकि उस समय मेरे पास ऐसा कोई खिलाड़ी नहीं था जो बैंटिग के साथ-साथ जरूरत पड़ने पर टीम के लिए गेंदबाजी भी कर सके। मैने इस बारे में चयनकर्ताओं से भी बात की थी। लेकिन उस समय ऐसा कोई प्लेयर मौजूद नहीं था।

टेस्ट रैंकिग मे नंबर-1 बना था भारत

बता दें कि पूर्व कोच की कोचिंग में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में दो सीरीज जीती थीं। इतना ही नहीं, टीम इंडिया ने क्रिकेट के टेस्ट प्रारुप में नंबर-1 रैंकिंग भी हासिल की थी। हालांकि, शास्त्री भारतीय टीम को वर्ल्ड कप जिताने में फेल रहे थे। उनको पहली वर्ल्ड टेस्ट चैंपियन टीम के कोच होने का गौरव भी प्राप्त हो सकता था, जिसको उन्होंने गवां दिया।

2018 में चोटिल हुए थे पांड्या

गौरतलब है कि टीम इंडिया के बेहतरीन ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या को 2018 के एशिया कप के दौरान बैक इंजरी हो गई थी। उसके बाद से वे लगातार तीन सालों तक अपने इस समस्या से परेशान रहे। इतना ही नहीं, हार्दिक ने खुद की रिकवरी के लिए 2021 के टी-20 वर्ल्ड कप की चयन प्रक्रिया में खुद को अनुपलब्ध करार दे दिया था।

वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरा वनडे जीता भारत, सीरीज किया अपने नाम

शुभमन गिल के टीम में आते ही बर्बाद हुआ इस बल्लेबाज का करियर, नहीं मिली प्लेइंग-11 में जगह

Latest news

spot_img