May 30, 2024
  • होम
  • अमित पंघल ने रचा इतिहास, ऐसे किया गोल्ड देश के नाम

अमित पंघल ने रचा इतिहास, ऐसे किया गोल्ड देश के नाम

  • WRITTEN BY: Ayushi Dhyani
  • LAST UPDATED : August 7, 2022, 5:27 pm IST

नई दिल्ली: भारतीय मुक्केबाज अमित पंघल ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में पुरुषों के 51 किग्रा फ्लाईवेट में स्वर्ण पदक जीतकर देश का नाम रोशन किया है। राष्ट्रमंडल खेलों में उनका पहला गोल्ड मेडल है।

नेशनल एग्जीबिशन सेंटर में हुए फाइनल मुकाबले में भारतीय मुक्केबाज ने इंग्लैंड के पसंदीदा मुक्केबाज कियारन मैकडोनाल्ड को सर्वसम्मत निर्णय (5-0) से हरा कर जीत अपने नाम की।

राष्ट्रमंडल खेलों में यह अमित पंघल का दूसरा मेडल है, जबकि यह उनका पहला गोल्ड है। इससे पहले उन्होंने गोल्ड कोस्ट 2018 में रजत पदक अपने नाम किया था।

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के बॉक्सिंग स्पर्धा में यह भारत का पांचवां मेडल था, जिसमें दो स्वर्ण पदक शुमार हैं। दो बार की युवा विश्व चैंपियन नीतू घंगास ने इससे पहले महिलाओं के 48 किग्रा मिनिमम वेट में जीत हासिल की थी।

पहले दौर में, अमित पूरा समय लेते हुए मौकों का इंतजार करने लगे थे। वहीं, भारतीय मुक्केबाज ने दूसरे राउंड में प्रतिद्वंदी खिलाड़ी पर लगातार हमला करना जारी रखा। इस दौरान मैकडोनाल्ड को अमित पंघल के हमलों के कारण चेहरे पर चोट लगी जिसे उनकी टीम के द्वारा स्टिच करना पड़ा था।

नीतू ने किया मेडल अपने नाम

वहीं मुकाबले में अमित पंघल ने मजबूत बढ़त बना ली। इस बीच, तीसरे दौर में भारतीय ने सर्वसम्मत निर्णय से अपना पहला राष्ट्रमंडल खेलों का स्वर्ण पदक देश के नाम किया।

कॉमनवेल्थ गेम्स में नीतू ने भारत के लिए 14वां गोल्ड अपने नाम किया है। नीतू का इंग्लैंड की मुक्केबाज के साथ मुकाबला तीनों ही राउंड में जबरदस्त चला। दोनों के बीच आक्रामकता चरम पर नजर आई लेकिन उस आक्रामकता के साथ जीत के लिए जो संयम चाहिए होता है, वो नीतू के खेल में पूरी तरह से दिया।

 

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन