IND VS AUS : रविचंद्रन अश्विन से डरा ऑस्ट्रेलिया खेमा

नागपुर : भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 टेस्ट मैच की सीरीज की शुरूआत 9 फरवरी से नागपुर में होने जा रही है. सीरीज शुरू होने से पहले ही ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज डर गया है. ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज ने कहा कि टर्निंग विकेट पर भारतयी स्पिनर अश्विन को खेलना बहुत ही मुश्किल काम है. आखिरी बार ऑस्ट्रेलिया ने 2017 में भारत का दौरा किया था. 2017 में हुई 4 टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत ने 2-1 से जीत दर्ज की थी. उस्मान ख्वाजा कि गिनती ऑस्ट्रेलिया के सफल बल्लाबाजों के रूप में होती है. ख्वाजा ने कहा कि इस सीरीज में भारतीय स्पिनरों के खेलना बहुत ही मुश्कलि काम है.

ख्वाजा ने अश्विन की तोप से की तुलना

पाकिस्तान में जन्में ख्वाजा वीजा मिलने में देरी होने के कारण टीम के साथ देर में जुड़े. उस्मान ख्वाजा नागपुर में दिग्गज बल्लेबाज डेविड वॉर्नर के साथ पारी की शुरूआत करेंगे. ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज से पहले भारत में अभ्यास मैच नहीं खेलने का फैसला किया है. अभ्यास मैच के बजाए ऑस्ट्रेलिया ने बेंगलुरू में स्पिनरों की मददगार पिच पर अभ्यास करना उचित समझा. ऑस्ट्रेलिया रविचंद्रन अश्विन के सबसे बड़ा खतरा मान रही है. ख्वाजा ने आगे कहा कि रविचंद्रन अश्विन ‘तोप’ है. अश्विन काफी हुनरमंद है और उनके पास बालिंग में विविधता है, जिसकी बदौलत वह बल्लेबाजों को काफी परेशान करते है. उस्मान ख्वाजा ने कहा कि तीसरे और चौथे दिन अगर बल्लेबाजी करनी पड़ी तो अश्विन को खेलना काफी मुश्किल है, क्योंकि भारतीय पिच तीसरे और चौथे दिन काफी दर्न लेती है.

अश्विन से कांपे कंगारू

ख्वाजा ने कहा कि अगर विकेट अच्छी हुई तो नई गेंद खेलना काफी आसान होगा, लेकिन विकेट टूटने पर अगर स्पिनर नई गेंदबाजी करेंगे तो बल्लेबाजी करना सबसे कठिन मुश्किल हो जाता है. ख्वाजा ने भारत में सीमीत ओवरों का क्रिकेट खेला है, लेकिन अब ख्वाजा को टेस्ट खेलने का मौक मिल रहा है. ख्वाजा 2013 से 2017 की ऑस्ट्रेलिया टीम का हिस्सा थे. हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के साल के बेस्ट क्रिकेटर चुने गए ख्वाजा पर अच्छा प्रदर्शन करना का दवाब होगा. ऑस्ट्रेलिया 2005 के बाद भारत में टेस्ट सीरीज नहीं जीती है.

कारगिल युद्ध के साजिशकर्ता थे मुशर्रफ, 1965 में भारत के खिलाफ लड़े थे युद्ध

Parvez Musharraf: जानिए क्या है मुशर्रफ-धोनी कनेक्शन, लोग क्यों करते हैं याद

Latest news