April 24, 2024
  • होम
  • कमलनाथ को अगले CM कैंडिडेट बताने पर शिवराज का तंज- अब होगा उनका परमकल्याण

कमलनाथ को अगले CM कैंडिडेट बताने पर शिवराज का तंज- अब होगा उनका परमकल्याण

  • WRITTEN BY: Amisha Singh
  • LAST UPDATED : February 20, 2023, 4:40 pm IST

भोपाल: मध्य प्रदेश में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इसी कड़ी में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने स्पष्ट किया है कि राज्य में अगला चुनाव पूर्व सीएम कमलनाथ के नेतृत्व में होगा। इस बीच, राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दिग्विजय जी के लिए ये बात मशहूर है कि वो जिनके कंधे पर हाथ रखते हैं उनके दिल में उसका बड़ा कल्याण होता है।

क्या बोले पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह?

आपको बता दें, सीहोर के अधिवेशन में पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से बातचीत की
इस दौरान दिग्विजय सिंह ने कहा कि कमलनाथ प्रदेश में मुख्यमंत्री पद का चेहरा बने रहेंगे। इस बीच, राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दिग्विजय जी के लिए एक बात काफी मशहूर हैं, जिनके कंधे पर हाथ रख दें, उनके दिल में परम कल्याण होता है। उन्होंने कहा कि अब इस दिग्विजय का एक अंदाज़ है, ये अपने दिल की बात कहते हैं और क्या करते हैं ये आज तक कोई पता नहीं लगा पाया।

नशा एक सामाजिक बुराई है- सीएम शिवराज

जहाँ आज सोमवार को सीएम शिवराज ने कहा कि हमारी सरकार मध्यप्रदेश में आबकारी कर नीति लाने का प्रयास कर रही है जो लोगों को शराब पीने से हतोत्साहित करती है। नशा एक सामाजिक बुराई है। इसलिए उन्होंने बतौर मुख्यमंत्री तय किया था कि मध्यप्रदेश में शराब की कोई दुकान नहीं खुलेगी

शिवराज ने दर्शकों को दिया खास संदेश

सीएम शिवराज ने कहा कि पहले क्या हुआ था कि हर बार आबकारी नीति आने पर 150,200,300 नए शराब स्टोर खोलने का प्रस्ताव था, हमने कोई भी नई शराब दुकान नहीं खोलने का फैसला किया। इसलिए वर्षों से हमारी संख्या स्थिर बनी हुई है। अगर आप तुलनात्मक रूप से देखें तो चाहे राजस्व का मामला हो या चाहे शराब की दुकान का मामला हो, राज्य का राजस्व भी बहुत कम है और शराब की दुकानों की तुलना में भी बहुत कम है। कल हमने एक और फैसला लिया। हमने देखा है कि शराब की दुकान पर अक्सर लोग वहीं से शराब खरीदते हैं, वहाँ बैठकर जो पीने की जगह होती है, वहीं बैठकर पी भी रहे हैं। इसके कई दुष्परिणाम देखने को मिलते हैं।

 

शराब की दुकान नहीं खुलेगी

इसके साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि धार्मिक और शिक्षा स्थल जैसे बालिका शिक्षा विद्यालय, कन्या विश्वविद्यालय के 100 मीटर के दायरे में शराब की दुकान नहीं होगी। चूंकि पहले यह सीमा 50 मीटर थी। हम तय करेंगे कि सभी दिक्कत समाप्त होनी चाहिए।

 

 

बलात्कारी को मिलेगी फाँसी

मध्य प्रदेश पहला राज्य था जहाँ हमने तय किया कि अगर कोई किसी मासूम बच्ची के साथ छेड़छाड़ करेगा तो उसे सीधे फाँसी पर लटका दिया जाएगा, जहाँ कइयों को मौत की सजा दी गई। हमने इनमें से कई कदम उठाए हैं। हम भी घरों में बुलडोजर चलाते हैं, हम बदमाशों को माफ नहीं करेंगे। कई जगहों पर बुलडोजर का इस्तेमाल किया गया है। क्योंकि सिर्फ जेल भेजना ही काफी नहीं है। आर्थिक रूप से उसकी कमर तोड़ना भी जरूरी है।

 

महिला सशक्तिकरण

साथ ही महिला सशक्तिकरण के लिए लाडली, लक्ष्मी बेटी योजना, कन्यादान योजना, बेटियों की शिक्षा, बहनों को शादी के साथ प्रसूति सहायता और मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना जैसे कई प्रयास किए गए हैं। जो हमारी गरीब और मध्यम वर्ग की बहनों को सशक्त बनाने का काम करेगा। सीएम ने यह भी कहा कि हमारी मातृशक्ति को और मजबूत करने का अभियान जारी रहेगा। क्योंकि मैं मानता हूँ, मेरा दृढ़ विश्वास है कि हमारी बहन मजबूत होगी तो परिवार मजबूत होगा, परिवार मजबूत होगा तो राज्य मजबूत होगा और राज्य मजबूत होगा तो देश मजबूत होगा।

 

यह भी पढ़ें :

 

Delhi Excise Case: बीजेपी बोली- ‘अरविंद केजरीवाल का अहंकार टूटेगा, AAP के पास सवालों का नहीं है जवाब’

मनीष सिसोदिया का दावा! बीजेपी ने मेरे खिलाफ सभी सीबीआई, ईडी मामलों को बंद करने की रखी पेशकश

 

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन