Opposition Meet in Patna: सब दूल्हे हैं बाराती कोई नहीं है… विपक्षी महामिलन पर सुशील मोदी का तंज

पटना: आज यानी शुक्रवार (23 जून) को बिहार की राजधानी पटना में विपक्षी दलों का महाजुटान होने जा रहा है जो लोकसभा चुनाव को लेकर बीजेपी के खिलाफ रणनीति तैयार करेंगे. डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के एक बयान के अनुसार पटना में होने वाली विपक्षी दलों की बैठक में 15 दलों के नेता शामिल होने जा रहे हैं. इस बीच भाजपा की ओर से भी बयानबाजी शुरू हो गई है जहां गैर भाजपाई दलों की बैठक पर बीजेपी सांसद सुशील मोदी ने तंज कसा है.

भाजपा का विपक्षी एकजुटता पर निशाना

बीजेपी सांसद सुशील मोदी ने विपक्षी दलों की बैठक को लेकर मीडिया से कहा, “सब दूल्हे हैं, बाराती कोई नहीं है”. पटना बैठक से पहले केंद्रीय मंत्री का ये बड़ा बयान सामने आया है. वहीं बिहार बीजेपी अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने भी विपक्षी दलों की बैठक पर निशाना साधा है. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए विपक्षी दलों को ठगों का महागठबंधन बताते हुए कहा, “यह ‘ठगों का गठबंधन’ है। वे देश को मूर्ख बनाने की तैयारी कर रहे हैं। उनके पास कोई सिद्धांत या नीति नहीं है और सभी भ्रष्टाचार में शामिल हैं।”

JDU का दावा

दूसरी ओर जेडीयू के नीरज कुमार ने विपक्षी दलों की बैठक को लेकर दावा किया कि गैर भाजपाई दलों की बैठक के बाद भाजपा की राजनीतिक दुकान बंद हो जाएगी. मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, 2024 में पीएम मोदी को हराने के लिए ममता बनर्जी, अखिलेश यादव समेत सभी नेता एकजुट हैं. नीरज कुमार ने पटना में पत्रकारों से बात करते हुए आगे कहा, यह बीजेपी के लिए बड़ी चुनौती है कि अगर सभी विपक्षी दल एकजुट हो जाएंगे तो उनकी राजनीतिक दुकान बंद हो जाएगी।

 

ये दल होंगे शामिल

RJD नेता तेजस्वी यादव के अनुसार इस दौरान 15 से अधिक दल जुटेंगे. जिसमें कांग्रेस से मल्लिकार्जुन खरगे, आप से अरविंद केजरीवाल और भगवंत मान, तृणमूल कांग्रेस से ममता बनर्जी, पीडीपी से महबूबा मुफ्ती, सपा से अखिलेश यादव, झामुमो से हेमंत सोरेन, डीएमके से एम के स्टालिन समेत महाराष्ट्र से शरद पवार और उद्धव ठाकरे भी शामिल होंगे. सबका एक ही लक्ष्य है अगले साल होने जा रहे लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराना.

Latest news