April 12, 2024
  • होम
  • Assembly Elections 2022: चुनाव आयोग ने चुनाव प्रचार के लिए दी रियायत

Assembly Elections 2022: चुनाव आयोग ने चुनाव प्रचार के लिए दी रियायत

  • WRITTEN BY: Aanchal Pandey
  • LAST UPDATED : February 12, 2022, 8:26 pm IST

Assembly Elections 2022: 

उत्तर प्रदेश, Assembly Elections 2022: कोरोना के घटते ग्राफ को देखते हुए चुनाव आयोग ने अब प्रचार में कुछ रियायतें दी हैं. कोरोना के कम होते मामलों के मद्देनजर केंद्रीय चुनाव आयोग (Election Commission) ने चुनाव प्रचार के लिए कुछ और रियायतें दी हैं. पहले रात में 8 बजे से सुबह 8 बजे तक चुनाव प्रचार नहीं हो सकता था जिसे अब घटाकर रात 10 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक चुनाव प्रचार पर रोक रहेगी. साथ ही, मैदान या रैली स्थल की अधिकतम क्षमता के 50 फीसदी संख्या के साथ सभा की जा सकेगी. चुनाव प्रचार में पद यात्राओं को भी अनुमति दी गई है लेकिन सीमित संख्या के लोगों के साथ ही पदयात्राएं की जा सकेंगी.

कम हुए कोरोना मामले

केंद्रीय चुनाव आयोग ने कोरोना के लगातार कम होते मामलों को देखते हुए चुनाव प्रचार में ये रियायतें दी है क्योंकि 21 जनवरी को जहाँ प्रदेश में करीब 3.5 लाख मामले सामने आ रहे थे तो वहीं अब यह संख्या घटकर 50,000 तक पहुंच गई है. चुनाव आयोग द्वारा दी गई रियायतों के मुताबिक, पहले रात में 8 बजे से सुबह 8 बजे तक चुनाव प्रचार नहीं हो सकता था जिसे अब घटाकर रात 10 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक चुनाव प्रचार पर रोक रहेगी. साथ ही, मैदान या रैली स्थल की अधिकतम क्षमता के 50 फीसदी संख्या के साथ सभा की जा सकेगी. चुनाव प्रचार में पद यात्राओं को भी अनुमति दी गई है लेकिन सीमित संख्या के लोगों के साथ ही पदयात्राएं की जा सकेंगी.

उत्तर प्रदेश के 9 जिलों में 55 सीटों पर मतदान

उत्तर प्रदेश में दुसरे चरण में 9 जिलों की 55 सीटों पर मतदान होने है, जिसके लिए शुक्रवार को सहारनपुर, बिजनौर, मुरादाबाद, संभल, रामपुर, बरेली, अमरोहा, शाहजहांपुर व बदायूं में तमाम राजनीतिक दलों के दिग्गज नेताओं व स्टार प्रचारकों ने अपने प्रत्याशियों के लिए वोट मांगे. इस कड़ी में पीएम मोदी ने कासगंज के पटियाली में जनसभा की तो अमित शाह बरेली में थे. वहीं, सीएम योगी ने कासगंज के अलावा शाजहांपुर व बदायूं में जनसभाएं कीं, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, केशव प्रसाद मौर्य व अन्य नेताओं ने भी भी ताबड़तोड़ जनसभाएं कर मतदाताओं से संपर्क स्थापित करने की कोशिश की. दूसरी तरफ सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रामपुर में चुनावी सभा की, तो वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने वर्चुअल रैली कर अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के लिए वोट मांगे.

 

यह भी पढ़ें:

Hijab Row: कर्नाटक में बढ़ते विवाद के बीच शिक्षण संस्थान 16 फरवरी तक किए गये बंद

Horrific Accident in Rajasthan भिवाड़ी में निर्माणाधीन इमारत हुई जमींदोज, एक की मौत- दर्जन भर मजदूर हुए घायल

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो