April 18, 2024
  • होम
  • 'कश्मीर को अफगानिस्तान बना दिया', बुलडोजर कार्रवाई पर महबूबा मुफ्ती

'कश्मीर को अफगानिस्तान बना दिया', बुलडोजर कार्रवाई पर महबूबा मुफ्ती

  • WRITTEN BY: Riya Kumari
  • LAST UPDATED : February 6, 2023, 8:05 pm IST

जम्मू कश्मीर:जम्मू-कश्मीर में अभी भी अवैध अतिक्रमण पर बुलडोजर एक्शन जारी है. इसपर विपक्ष लगतार निशाना साध रहा है. इस मुद्दे को लेकर अब पक्ष विपक्ष की राजनीति शुरू हो चुकी है. इसी कड़ी में पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती ने भी केंद्र पर हमला बोला है.

भाजपा पर लगाए गंभीर आरोप

इस मामले को लेकर महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी पर निशाना साधा है. इस दौरान महबूबा मुफ़्ती ने कश्मीर की तुलना अफगानिस्तान और फिलिस्तीन जैसे देशों से कर दो है. उन्होंने कहा “देश के संविधान को बीजेपी ने ध्वस्त करने के लिए अपने बहुमत को क्रूर हथियार बना लिया है.” उन्होंने आगे आरोप लगाया है, ‘भाजपा मीडिया को भी अपने हथियार की ही तरह इस्तेमाल कर रही है और लोगों की आवाज़ को दबा रही है. बीजेपी अब न्यायपालिका को भी दबाने की कोशिश कर रही है. महबूबा मुफ़्ती ने आगे कहती हैं, “सबसे पहले 370 हटाया गया फिर मीडिया पर पाबंदी लगाई गई और अब न्यायपालिका पर अंकुश लगाने की कोशिश हो रही है.”

क्या बोलीं मुफ़्ती?

केंद्र सरकार को घेरते हुए वह आगे कहती हैं, “यदि अभी आप कश्मीर जाएं तो आपको वह जगह अफगानिस्तान जैसी ही लगेगी. क्योंकि वहां बुलडोजर चलाए जा रहे हैं. लोगों को अपनी जमीन से अतिक्रमण के नाम पर निकाला जा रहा है. टारगेट कर बुलडोजर चलाया जा रहा है. उन्होंने(बीजेपी ने) हमारी नौकरियां, जमीन और खनिज आउटसोर्स किए हैं.” पीडीपी चीफ आगे कहती हैं,

 

अफगानिस्तान-फिलिस्तीन से की तुलना

उन्होंने आगे कहा, “पहले हम सोचा करते थे कि इजरायल, फिलिस्तीन के साथ जैसा करता है, उससे बीजेपी ने सीख ली है. लेकिन अब उन्होंने इसे पीछे छोड़ कर जम्मू-कश्मीर को अफगानिस्तान जैसा बनाना शुरू कर दिया हैं.” वह आगे कहती हैं, “इसकी तुलना फिलिस्तीन से कर रही हूं क्योंकि भाजपा की सरकार कश्मीर में ईस्ट-इंडिया कंपनी की तरह ही काम कर रही है. फिलिस्तीन अब भी काफी बेहतर है और उनके लोग बात करते हैं. यहां तो लोगों के घरों को बुलडोजर से तोड़ा जा रहा है.”

मीडिया से की गई बातचीत में उन्होंने बुलडोजर एक्शन पर हमला करते हुए आगे पूछा, “क्या अब आप राजभवन गिराएंगे? नेहरू गेस्ट हाउस, शंकराचार्य मंदिर में भी अतिक्रमण में दिखाया गया क्या इन्हें भी गिराएंगे? हेट पॉलिटिक्स की शुरुआत हमेशा जम्मू-कश्मीर से ही होती है. जम्मू-कश्मीर से 370 खत्म करने के बाद लोग NIA-ED का जुल्म सह रहे हैं. सारे संसाधन बाहर वालों को दे दिए गए हैं और लोग चीख चिल्ला रहे हैं.”

कारगिल युद्ध के साजिशकर्ता थे मुशर्रफ, 1965 में भारत के खिलाफ लड़े थे युद्ध

Parvez Musharraf: जानिए क्या है मुशर्रफ-धोनी कनेक्शन, लोग क्यों करते हैं याद

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो