April 23, 2024
  • होम
  • Greater Noida Crime News: ग्रेटर नोएडा में BBA छात्र के हत्यारों की पुलिस से झड़प, तीन गिरफ्तार एक फरार

Greater Noida Crime News: ग्रेटर नोएडा में BBA छात्र के हत्यारों की पुलिस से झड़प, तीन गिरफ्तार एक फरार

  • WRITTEN BY: Tuba Khan
  • LAST UPDATED : March 1, 2024, 10:07 am IST

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में एक नामी यूनिवर्सिटी के बीबीए छात्र को पार्टी के बहाने अमरोहा के जंगलों में ले जाया गया, जहां उसके दोस्तों ने उसकी हत्या कर दी और उसके शव को 6 फीट गहरे गड्ढे में दबा दिया। इसके बाद छात्र के परिवार से 6 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी गई। नोएडा पुलिस ने आरोपी दोस्तो की निशानदेही पर छात्रा का शव बरामद किया और पूरी घटना का खुलासा किया है.

बीबीए का छात्र था यश

Missing Greater Noida college student killed by five friends in Amroha,  three held after encounter - Hindustan Times
बीबीए का छात्र था यश

बता दें मृतक यश मित्तल ग्रेटर नोएडा के एक नामी यूनिवर्सिटी से बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन का छात्र था। यश 26 फरवरी की रात से अपने हॉस्टल से लापता था. यश के पिता दीपक मित्तल की अमरोहा के गजरौल में इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान है। उन्होंने दादरी थाने में अपने बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई. इसी बीच यश के फोन से कॉल आई और बेटे की रिहाई के लिए 6 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी गई. वहां इसकी शिकायत प्रदीप मित्तल ने दादरी थाने में भी दर्ज कराई थी।

पूरा मामला

सीनियर डीसीपी नोएडा साद मियां खान ने कहा, ‘मामले की गंभीरता को देखते हुए कई टीमों का गठन किया गया और गजरौला इलाके में एक ऑपरेशन चलाया गया। सुरक्षा बलों की मदद से यश के दोस्त रचित को गिरफ्तार कर लिया गया और निशानदेही करने के बाद यश का शव मिला. “यह तिगरिया-अमरोहा के जंगल खोजा गया। डीसीपी ग्रेटर नोएडा के अनुसार, रचित ने पूछताछ के दौरान कहा कि यश मित्तल को 26 फरवरी को फोन करके पार्टी करने के लिए यूनिवर्सिटी से बुलाया गया था. जहां दोस्तों से विवाद होने के बाद यश मित्तल की गला दबाकर हत्या कर दी गई.

यश मित्तल ने अपने दोस्तों रचित, शिवम, सुशांत और शुभम चौधरी के साथ तिगरिया अमरोहा के जंगल में एक पार्टी की थी। से पार्टी के दौरान यश मित्तल की अपने साथियों से किसी बात पर बहस हो गई. और यश मित्तल के साथियों ने उसका गला दबाकर हत्या कर दी और उसके शव को 5 से 6 फीट गहरा गड्ढा खोदकर दफना दिया. इस मामले में गजरौला पुलिस ने पंचायतनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बेटे का शव मिलने के बाद माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है.

तीन आरोपी गिरफ्तार

डीसीपी ने जानकारी दी कि हत्या के बाद आरोपी ने पुलिस और परिजनों को गुमराह करने के लिए मृतक के मोबाइल फोन से अपहरण संबंधी मैसेज भेजे. पुलिस इस घटना में संदिग्धों की तलाश कर रही थी, तभी उन्हें पता चला कि वे दादरी में हैं. दादरी में झड़प के बाद पुलिस ने इस हत्याकांड में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. संदिग्धों में से एक, शुभम चौधरी, फिलहाल फरार है और उसकी तलाश जारी है।

Sandeshkhali: ममता के गढ़ में पीएम मोदी की दहाड़! लोकसभा चुनाव 2024 के लिए बीजेपी के अभियान का करेंगे आगाज

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो