Viral: ‘खान सर’ के मुसलमानों पर विवादित बोल, हो रही है गिरफ्तारी की माँग

Khan Sir Video: देश में बड़े तबके में खान सर को पसंद किया जाता है. अपने खास पढ़ाने के अंदाज की बदौलत देश-दुनिया में मशहूर बिहार के खान सर एक बार फिर से सुर्खियों में आ गए हैं. यही नहीं, इंटरनेट पर लोग खान सर जमकर बुरा-भला कह रहे हैं. इसी दरमियान विपक्षी पार्टियों ने उनकी गिरफ्तारी तक की माँग की है. इसकी वजह उनका एक बयान है, जिसमें वह ‘मुसलमानों’ के बारे में पोलिमिकली बोलते नजर आ रहे हैं.

 

• खान सर एक बार फिर सुर्ख़ियों में

वायरल हो रहे वीडियो में खान सर को हमेशा की तरह बड़े से पर्दे पर बच्चों को पढ़ाते देखा जा सकता है. वीडियो में खान साहब हिंदी व्याकरण के द्वंद्व समास को पढ़ा रहे हैं. इसी को पढ़ाने के दरमियान खान सर कहते हैं कि आपने संधि विच्छेद पढ़ा है ना? संधि विच्छेद माने एक ही बात के दो अर्थ निकलना।

• सुरेश और अब्दुल में फर्क

 

यहाँ तक तो ठीक था लेकिन इसके आगे खान सर ने नज़ीर पेश करते हुए कहा कि, सुरेश ने जहाज को उड़ा दिया, जिसका मतलब है कि सुरेश ने जहाज को उड़ा दिया लेकिन अगर नाम को तब्दील कर दें और कहें कि अब्दुल ने जहाज उड़ा दिया। यहाँ पर खान सर का ताल्लुक है कि अब्दुल के जहाज़ उड़ाने का मतलब बम वगैरह से उड़ाना।

 

• लोगों ने जमकर सुनाया

 

खान सर के इस बयान के चलते उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल किया गया और गिरफ्तारी की मांग की गई. कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत ने भी ट्वीट कर गिरफ्तारी की मांग की। सुप्रिया ने अपने ट्वीट में लिखा कि, “बुरा, निहायत ही बुरा, इसे गिरफ्तार किया जाना चाहिए और हंसने वाले को इसकी भद्दी बकवास सुनकर सोचना चाहिए: हम क्या बन रहे हैं?”

 

• हो रही है गिरफ्तारी की मांग

साथ ही दिग्गज लेखक अशोक कुमार पांडेय ने भी इस पर ऐतराज़ जताते हुए खान साहब को गिरफ्तार करने की मांग की. इसके अलावा दिग्गज लेखक अशोक कुमार पांडेय ने भी खान साहब को गिरफ्तार करने की मांग की. उन्होंने ट्वीट किया, “इसे कहते हैं नीचता की पराकाष्ठा। वे लोग सस्ते व्यापारी हैं जो शिक्षा की आड़ में समाज में नफरत फैलाते हैं। इस आदमी को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए।”

 

 

यह भी पढ़ें

 

मुल्तानी मिट्टी से धोएं बाल, एक ही बार में हो जाएंगे मुलायम व बेहद ख़ूबसूरत

Relationship: क्या है तलाक-ए-हसन? जानिए इस्लाम में कितने तरीके के होते हैं तलाक

 

 

Latest news