April 25, 2024
  • होम
  • Presidential Election in Sri Lanka: आज श्रीलंका को मिलेगा नया राष्ट्रपति, रानिल विक्रमसिंघे को अपनी ही पार्टी के सांसद से मिली चुनौती

Presidential Election in Sri Lanka: आज श्रीलंका को मिलेगा नया राष्ट्रपति, रानिल विक्रमसिंघे को अपनी ही पार्टी के सांसद से मिली चुनौती

  • WRITTEN BY: Vaibhav Mishra
  • LAST UPDATED : July 20, 2022, 7:59 am IST

Presidential Election in Sri Lanka:

नई दिल्ली। श्रीलंका में आज राष्ट्रपति का चुनाव होगा। विपक्षी पार्टी के उम्मीदवार साजिथ प्रेमदासा (Sajith Premadasa) के चुनावी मैदान से हटने के बाद अब मुकाबले ने दिलचस्प रूप ले लिया है। कार्यवाहक राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे को उनके ही पार्टी एसएलपीपी के सांसद डलास अलाहाप्पेरूमा (Dallas Alahapperuma) ने चुनौती दे दी है।

साजिथ प्रेमदासा ने वापस लिया नाम

इससे पहले राष्ट्रपति चुनाव में मुख्य मुकाबला विपक्षी पार्टी के उम्मीदवार साजिथ प्रेमदासा और कार्यवाहक राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे (Ranil Wickremesinghe) के बीच माना जा रहा था। लेकिन आखिरी वक्त में साजिथ प्रेमदासा ने अपना नाम वापस ले लिया। अब चुनावी समीकरण पूरा तरह बदल चुका है। राजपक्षे परिवार (Rajapaksa family) की पार्टी एसएलपीपी के सांसद डलास अलाहाप्पेरूमा और कार्यवाहक राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे ही अब नए राष्ट्रपति के चुनावी रेस में हैं।

विक्रसिंघे और अलाहाप्पेरूमा के बीच मुकाबला

बता दें कि श्रीलंका के राष्ट्रपति चुनाव में अब सिर्फ दो ही मुख्य उम्मीदवार बचे हुए है। जिसमें एक राजपक्षे परिवार के करीबी और कार्यवाहक राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे है और दूसरे सांसद डलास अलाहाप्पेरूमा हैं। रानिल विक्रमसिंघे जब देश के प्रधानमंत्री थे तब डलास उनकी कैबिनेट में मंत्री थे। लेकिन बदलते राजनीतिक समीकरण के बीच उन्होंने कार्यवाहक राष्ट्रपति को चुनौती दे दी है।

साजिथ प्रेमदासा ने पीएम मोदी से की अपील

गौरतलब है कि श्रीलंका की विपक्षी पार्टी के नेता साजिथ प्रेमदासा ने मंगलवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करते हुए कहा कि श्रीलंका का राष्ट्रपति चाहे कोई भी बने लेकिन भारत को इस मुश्किल वक्त में अपने पड़ोसी की मदद जारी रखना चाहिए। देश के इतिहास के सबसे गंभीर आर्थिक संकट का सामना कर रहे श्रीलंका को लगातार मदद करने वाला इस वक्त सिर्फ भारत ही एकमात्र देश है। यही वजह है कि श्रीलंका की जनता और वहां को राजनेता लगातार भारत से मदद की अपील कर रहे हैं।

Vice President Election 2022: जगदीप धनखड़ बनेंगे देश के अगले उपराष्ट्रपति? जानिए क्या कहते हैं सियासी समीकरण

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन