निज्जर विवाद पर कनाडा को विदेश मंत्री जयशंकर का दो टूक जवाब, ‘सबूत दें, हम जांच को तैयार’

नई दिल्ली। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने निज्जर विवाद पर कहा है कि भारत सरकार खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या से जुड़ी जांच के लिए मना नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि लेकिन कनाडा की सरकार को अपने किए गए दावों को साबित करने के लिए सबूत दिखाने चाहिए, जिसमें वो कह रहे हैं कि निज्जर की हत्या में भारतीय एजेंट्स का हाथ था। बता दें कि विदेश मंत्री इन दिनों ब्रिटेन के दौरे पर हैं।

ब्रिटेन दौरे पर जयशंकर

ब्रिटेन की राजधानी लंदन में जयशंकर ने उत्तर प्रदेश के लोखरी से 8वीं शताब्दी की चुराई गई मंदिर की मूर्तियों, योगिनी चामुंडा और योगिनी गोमुखी की वापसी समारोह कार्यक्रम में हिस्सा लिया। यहां पर उन्होंने कनाडा और उसके द्वारा लगाए गए आरोपों पर बात की। विदेश मंत्री का यह बयान ऐसे वक्त पर आया है, जब दो महीने पहले जस्टिन ट्रूडो की सरकार ने निज्जर की हत्या का आरोप भारत के एजेंट्स पर लगाकर भारत के शीर्ष राजनयिक को ओटावा छोड़कर जाने के लिए कह दिया था।

हम जांच को तैयार: जयशंकर

विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा कि हमने कनाडा को बताया है। असल में बात यह है कि हमें लगता है कि कनाडा की सियासत में हिंसक और अतिवादी राजनीति को जगह मिली है। उन्होंने कहा कि जिसका प्रमुख काम हिंसक तरीकों सहित भारत से अलगाववाद की बात करना है। उन्होंने आगे कहा कि इन लोगों को कनाडा की सियासत में मिला दिया गया है। जयशंकर ने कहा कि उनके पास अपने विचारों को रखेन की आजादी है। लेकिन बोलने या अभिव्यक्ति की आजादी भी एक जिम्मेदारी के साथ मिलती है। विदेश मंत्री ने कहा कि यदि आपके पास ऐसा आरोप लगाने की कोई वजह है, तो हमारे साथ सबूत साझा करें। हम इस मामले में जांच से इनकार नहीं कर रहे हैं।

Latest news