June 16, 2024
  • होम
  • चीन को जवाब देने के लिए भारत तैयार…… तिब्बत के 30 स्थानों के नाम बदलने को मंजूरी

चीन को जवाब देने के लिए भारत तैयार…… तिब्बत के 30 स्थानों के नाम बदलने को मंजूरी

  • WRITTEN BY: Anjali Singh
  • LAST UPDATED : June 11, 2024, 6:10 pm IST

India-China: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय सरकार ने तिब्बत में 30 स्थानों के नाम बदलने की मंजूरी दे दी है। इसका मकसद अरुणाचल प्रदेश में चीन की नामकरण नीति का जवाब देना है। भारत ने यह कदम चीन के अप्रैल में अरुणाचल प्रदेश में 30 स्थानों के नाम बदलने के जवाब में उठाया है, जिस पर भारत ने कड़ी आपत्ति जताई थी।

स्थानों के नाम बदलने का मकसद

एक रिपोर्ट के मुताबिक, इन 30 स्थानों में 11 आवासीय क्षेत्र, 12 पहाड़, चार नदियाँ, एक झील, एक पहाड़ी दर्रा और एक जमीन का टुकड़ा शामिल है। ये स्थान तिब्बत के आधार पर नामांकित किए जाएंगे। भारतीय आर्मी इन नए नामों को जारी करेगी और LAC के मैप भी उन्हें अपडेट कर देगा।

modi government renamed tibet 30 locations arunachal pradesh border issue  counter china - जैसे को तैसा! चीन को मोदी सरकार ने दिया मैसेज, तिब्बत को  लेकर अब किया ये फैसला | Jansatta

सीमा में गतिरोध

गतिरोध के समय में, भारत ने चीन के दावों का स्वीकृत नहीं किया और अरुणाचल प्रदेश को अपना अभिन्न अंग माना है। विदेश मंत्रालय ने कहा है कि नाम बदलने से वास्तविकता में कोई बदलाव नहीं आता। भारत ने इस फैसले के माध्यम से अपने क्षेत्रीय दावों को पुष्ट करने का निश्चित इरादा दिखाया है।

तीसरी पारी में PM मोदी की चीन को सबक सिखाने की तैयारी, तिब्बत में 30 से  अधिक स्थानों के बदले जाएंगे नाम - india set to rename over 30 places in  tibet-mobile

भारतीय विदेश नीति

भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर ने बताया कि चीन और पाकिस्तान के साथ हमारे संबंध अलग हैं। उन्होंने कहा कि भारत चीन सीमा मुद्दों का समाधान खोजने के लिए सक्रिय रहेगा और पाकिस्तान के साथ वह आतंकवादी मुद्दों पर संवाद स्थापित करेगा।

 

 

 

 

ये भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश रोडवेज में ड्राइवर की नौकरी: 6000 पदों पर भर्ती, जानिए कैसे करें आवेदन

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन