April 18, 2024
  • होम
  • UP Election Result: खाली करवाया गया स्वामी प्रसाद, धर्म सैनी और दारा सिंह का सरकारी आवास, चुनाव से पहले भाजपा छोड़ सपा में हुए थे शामिल

UP Election Result: खाली करवाया गया स्वामी प्रसाद, धर्म सैनी और दारा सिंह का सरकारी आवास, चुनाव से पहले भाजपा छोड़ सपा में हुए थे शामिल

  • WRITTEN BY: Vaibhav Mishra
  • LAST UPDATED : March 13, 2022, 10:46 am IST

UP Election Result:

लखनऊ, यूपी विधानससभा चुनाव का शोर-शराबा अब थम चुका है. 10 मार्च को चुनाव के नतीजे (UP Election Result) आ गए है. सत्ताधारी पार्टी भाजपा दुबारा यूपी की सरकार बनाने जा रही है. इसी बीच चुनाव से ठीक पहले भाजपा छोड़कर सपा का दामन थामने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य से प्रशासन ने सरकारी बंगला खाली करवा लिया है.

फाजिलनगर से लड़ा था इस चुनाव 

बता दे कि स्वामी प्रसाद मौर्य 2017 का विधानसभा चुनाव भाजपा के टिकट पर पडरौना विधानसभा से लड़ा था. चुनाव जीतने के बाद वो योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री बने थे. लगभग पांच साल भाजपा सरकार का हिस्सा रहने के बाद उन्होंने चुनाव से ठीक पहले 2022 में भाजपा सरकार छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए. 2022 के विधानससभा चुनाव उन्होंने फाजिलनगर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा था, जिसमें उनकी करारी हार हुई है. यहीं कारण है कि मंत्री रहने के दौरान उनको मिला सरकारी आवास प्रशासन ने खाली करवा लिया है.

निजी आवास में शिफ्ट हुए स्वामी

मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार सरकारी आवास खाली करने के बाद स्वमी प्रसाद मौर्य अब विपुल खंड में स्थित अपने निजी आवास में शिफ्ट हो गए है. स्वामी प्रसाद ने समाजवादी पार्टी में शामिल होने के बाद भाजपा और आरएसएस पर जमकर निशाना साधा था. उन्होंने योगी सरकार और मोदी सरकार की नीतियों की भी काफी आलोचना की थी. अब दुबारा भारी बहुमत की सरकार बनने के बाद योगी सरकार उनपर मेहरबानी दिखाएगी इसकी संभावना कम ही है।

गौरतलब है कि स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ धर्म सिंह सैनी और दारा सिंह भी भाजपा छोड़कर सपा में शामिल हुए थे. योगी सरकार के गठन के लिए यूपी का प्रशासन पुराने और हारे हुए और दूसरी पार्टियों में शामिल हुए मंत्रियों का आवास खाली करवा रहा है. इस विधानसभा चुनाव में योगी सराकार में शामिल 11 मंत्रियों की विधानसभा चुनाव में हार हुई है. बताया जा रहा है कि नई सरकार के गठन होने तक सभी का आवास खाली करवा लिया जाएगा।

 

यह भी पढ़ें:

Election 2022: तीन राज्यों में बीजेपी के सीएम लगभग तय, उत्तराखंड को लेकर संशय बरकरार

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो