MP Election 2023: बीजेपी का घोषणा पत्र जारी, नड्डा बोले- हम अपने वादे पूरा करते हैं

भोपाल: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने शनिवार को अपना घोषणा पत्र (संकल्प पत्र) जारी कर दिया. भाजपा के अध्यक्ष जेपी नड्डा और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल में स्थित कुशाभाऊ ठाकरे कन्वेंशन सेंटर (मिंटो हॉल) में संकल्प पत्र जारी किया. बीजेपी के घोषणा पत्र की टैग लाइन ‘मोदी की गारंटी, भाजपा का भरोसा’ है. पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में किसान, गरीब समेत लगभग हर वर्ग को साधने की कोशिश की है. इसके साथ ही बीजेपी ने लाड़ली बहनों को पक्के मकान, गरीब घर के छात्रों को KG से 12वीं तक, वहीं छात्राओं को PG तक मुफ्त में शिक्षा देने का वादा किया है.

बीजेपी के घोषणा पत्र के वादे-

महिलाओं के लिए क्या है…

लाड़ली बहनों को आर्थिक मदद दी जाएगी. इसके साथ ही मकान भी दिया जाएगा. ग्रामीण महिलाओं को स्किल ट्रेनिंग दी जाएगी. उज्जवला, लाड़ली बहनों को सिर्फ 450 रुपये में गैस सिलेंडर, लाड़ली लक्ष्मियों को 2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता. मिलेगी. बालिका सैनिक स्कूल खोला जाएगा. इसके साथ ही सरकारी स्कूल और कॉलेज में सैनिटरी पैड की व्यवस्था की जाएगी.

किसानों और युवाओं के लिए

भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में किसानों के लिए भी कई वादें किए हैं. जिनमें गेंहू 2700 रुपये, धान 3100 रुपये प्रति क्विंटल पर खरीदने का वादा है. इसके साथ ही गेंहू और धान की एमएसपी पर बोनस देने का भी वादा किया गया है. अगर हम युवाओं की बात करें तो भाजपा ने 10 हजार रुपये का स्टाईपेंड और हर परिवार में कम से कम एक रोजगार या स्वरोजगार की बात कही है.

स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए वादे

बीजेपी के घोषणा पत्र में स्वास्थ्य क्षेत्र को कभी काफी महत्व दिया गया है. आयुष्मान योजना के तहत अगर 5 लाख रुपये से ज्यादा खर्च हो रहा है तो उसका खर्च राज्य सरकार उठाएगी. इसके साथ ही प्रदेश में अटल मेडिसिटी की स्थापना की जाएगी. हर लोकसभा क्षेत्र में मेडिकल कॉलेज बनाया जाएगा. जिसमें 5 साल में 2 हजार सीटें जोड़ी जाएंगी. इसके अलावा हर जिले में नर्सिंग कॉलेज खोला जाएगा.

जेपी नड्डा ने क्या कहा?

घोषणा पत्र जारी करते हुए बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि दूसरी राजनीतिक पार्टियां वादा करो और भूल जाओ की नीति पर कार्य करती हैं, लेकिन भारतीय जनता पार्टी में ऐसा नहीं है. भाजपा योजनाओं की मॉनिटरिंग कर उसे लागू कराने पर काम करती है. वहीं, इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हमारी सरकार बनने पर संकल्प पत्र को अक्षरश: जमीन पर उतारने का काम किया जाएगा.

Latest news