May 30, 2024
  • होम
  • Sucide:रेलवे के आगे कूदकर महिला ने की आत्महत्या, बच्चे के रोने की आवाज सुनकर गांव वाले पहुंचे तो रह गए दंग

Sucide:रेलवे के आगे कूदकर महिला ने की आत्महत्या, बच्चे के रोने की आवाज सुनकर गांव वाले पहुंचे तो रह गए दंग

  • WRITTEN BY: Mohd Waseeque
  • LAST UPDATED : April 12, 2024, 8:00 pm IST

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के जिले कानपुर देहात में पारिवारिक कलह से परेशान होकर एक महिला ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या (Sucide) कर ली. वह रेलवे ट्रैक पर अपने साथ 7 महीने के बच्चे को भी लेकर आई थी. उस महिला ने ट्रेन के आगे कूदने से पहले अपने बच्चे को पटरी के किनारे लिटा दिया था. ट्रेन गुजर जाने के बाद जब बच्चे के रोने की आवाज ट्रेन की पटरियों के अगल बगल काम कर रहे गांव वालों को सुनाई दी, तो गांव वाले उस बच्चे के पास पहुंच गए. जहां ट्रेन की पटरियों पर पड़ी महिला की लाश को क्षत-विक्षत देखकर उनके होश फाख्ता हो गए. गांव वालों ने इस घटना की जानकारी तुरन्त पुलिस को दी.

परिवार वालों से हो रही पूझताछ

पुलिस ने महिला की पहचान करने के बाद शव को पोस्टमार्टम करवाने के लिए भेज दिया. इस आत्महत्या को लेकर पुलिस महिला के परिवार वालों से भी पूछताछ कर रही है. महिला के पास मौजूद बच्चे को पुलिस ने उसके घर वालों को सौंप दिया है. यह घटना पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गई है.

बच्चे को पटरी से दूर लिटाने के बाद ट्रेन के आगे कूदी महिला

पुलिस की शुरुआती जांच के मुताबिक, इस महिला ने ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या (Sucide) की है. पुलिस ने बताया कि महिला ने ट्रेन के आगे अपनी जान देने से पहले उसने अपने पास मौजूद बच्चे को पटरी से कुछ दूर लिटा दिया और फिर ट्रेन के आगे कूद गयी. उसने यह आत्महत्या पारिवारिक कलह के कारण की है. जब बच्चे के रोने की आवाज वहां पर मौजूद गांव वालों ने सुनी तो उन्होंने बच्चे को गले लगाते हुए पुलिस को इसकी जानकारी दी.

क्या है पूरा मामला

महिला की ट्रेन से आत्महत्या (Sucide) का यह पूरा मामला भोगनीपुर कोतवाली क्षेत्र का है, जहां पर गोपालपुर गांव के रहने वाले राधेश्याम की 25 वर्षीय पत्नी पूनम गुरुवार शाम को अपने 7 महीने के बच्चे को गोद में लेकर घर से निकली थी. पास के डीघ गांव के रेलवे पटरी किनारे पहुंचकर उसने अपने पास मौजूद बच्चे को पटरी से दूर लिटा दिया और खुद कानपुर से झांसी की ओर आ रही राप्ती सागर एक्सप्रेस के आगे कूद गई. जिससे उसकी ट्रेन से कटकर जान चली गई. ट्रेन के जाने के कुछ देर बाद बच्चा जब रोने लगा तो आसपास खेतों में कटाई कर रहे गांव वालों और महिलाओं ने मौके पर पहुंचकर बच्चे को गोद में लिया और इसकी जानकारी पुलिस को दी महिला का शव क्षत-विक्षत होने की वजह से गांव वाले उस महिला की पहचान नहीं कर पाए.

मौके पर पहुंचे चौकी इंजार्ज

गांव वालों के घटना की सूचना देने के बाद पहुंचे डीघ चौकी इंचार्ज धर्मेंद्र मालिक ने शव की पहचान करवाकर उसको पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. इसके बाद चौकी इंचार्ज धर्मेंद्र मालिक ने महिला के परिजनों से पूछताछ करने लगी. महिला के परिजनों ने पूछताछ में बताया की उसकी पति राधेश्याम से शराब पीने को लेकर आए दिन कलह हुआ करती थी. परिजनों ने कहा कि हो सकता है वह पति के शराब पीने की वजह से ऐसा कदम उठाया हो.

ये भी पढ़ें- Suicide in Mumbai: मुंबई के एक टॉवर की 9वीं मंजिल से कूदकर महिला ने की आत्महत्या

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन