नेहरू के खिलाफ टिप्पणी को लेकर विपक्षी दलों ने शाह पर बोला हमला, भाजपा का पलटवार

नई दिल्ली: विपक्षी दलों ने देश के पहले पीएम जवाहरलाल नेहरू के खिलाफ गृह मंत्री अमित शाह की टिप्पणी को लेकर छह दिसंबर को उन पर हमला बोला. कांग्रेस नेताओं ने कहा कि उन लोगों का अपमान करने का अधिकार किसी को भी नहीं है, जिन्होंने स्वतंत्रता संग्राम के लिए ब्रिटिश शासन के खिलाफ लड़ाई लड़ी और अपना सबकुछ दांव पर लगा दिया।

बीजेपी नेता का पलटवार

इस पर बीजेपी नेताओं ने पलटवार करते हुए कहा कि लोकसभा में नेहरू के बारे में अमित शाह ने जो कुछ भी कहा वह सही है और इतिहास को बताना होगा।आपको बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने छह दिसंबर को लोकसभा में कहा कि देश के प्रथम पीएम पंडित जवाहरलाल नेहरू के कार्यकाल के दौरान हुए दो बड़े ब्लंडर गलतियों का खामियाजा जम्मू-कश्मीर को वर्षों तक भुगतना पड़ा।

जम्मू कश्मीर आरक्षण (संशोधन) विधेयक 2023, जम्मू कश्मीर पुनर्गठन (संशोधन) विधेयक 2023 पर सदन में हुई चर्चा का जवाब देते हुए उनका कहना था कि नेहरू की ये दो गलतियां जो 1947 में पाकिस्तान के साथ युद्ध के समय संघर्ष विराम करना और जम्मू-कश्मीर के मामले को संयुक्त राष्ट्र ले जाने की थी. अमित शाह की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने एक्स पर पोस्ट किया, उन्होंने कहा कि आज लोकसभा में गृह मंत्री ने 1947 और 1948 में जम्मू-कश्मीर में नेहरू की भूमिका पर जानबूझकर उत्तेजक और स्पष्ट रूप से गलत बयान दिए।

शक्तिसिंह गोहिल ने क्या कहा?

कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य शक्तिसिंह गोहिल ने कहा कि किसी को भी भारत के पहले पीएम के खिलाफ ऐसी टिप्पणी करने का अधिकार नहीं है, जिन्होंने स्वतंत्रता संग्राम के लिए ब्रिटिश शासन के खिलाफ लड़ाई लड़ी और अपना सबकुछ समर्पित कर दिया।

यह भी पढ़े : 

The Kerala Story: अदा शर्मा ने केरला स्टोरी के आलोचकों को दिया करारा जवाब, कही ये बात

सेना की महिला अधिकारी अब चलाएगीं तोप और रॉकेट,आर्टिलरी रेजीमेंट में पहले बैच को मिला कमीशन

Latest news