Manipur Violence: इंफाल में मिली कर्फ्यू में ढील,जरूरी सामान खरीदने के अपने घरों से बाहर निकले लोग

इंफाल। मणिपुर में हिंसा थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। हर कुछ दिनों में यहां जातियों को बीच किसी न किसी बात को लेकर हिंसा भड़क उठती है। जिसमे अभी तक सैड़कों मासूम लोगों की जान ले ली है। बीते रविवार यानी 28 मई CM के बयान के चलते वहां फिर हिंसा भड़की। जिसके चलते यहां पहले से ही कर्फ्यू लगा हुआ था। आज यानी 30 मई को कर्फ्यू में थोड़ी ढील देखी गई।

कर्फ्यू में ढील

इंफाल में कर्फ्यू में ढील के दौरान लोग जरूरी सामान खरीदने के लिए अपने घरों से बाहर निकले। वहां ख्वैरामबंद बाजार क्षेत्र के कुछ दृश्य सामने आए हैं। जिससे इस ढील की जानकारी मिली है।

कई घरों को किया आग के हवाले

कल रविवार (28 मई) सुबह सुगनु में ही एक भीड़ ने 5 गांवों में कुकी जनजाति के लोगों के घर आग के हवाले कर दिए। दरअसल मणिपुर के पश्चिमी इंफाल में ही बीजेपी के विधायक केएच रघुमनी सिंह के घर को गुस्साई भीड़ ने आग लगाकर राख कर दिया। काकचिंग जिले के सेरोउ, सुगनु में उग्रवादी संगठन के लोगों ने मैती समुदाय के करीब 80 घरों में आग लगा दी। जिसके बाद इलाके में पुलिस तैनात की गई। कुछ जगहों पर पुलिस और उग्रवादी संगठन के लोगों में मुठभेड़ की भी खबरें हैं।

बड़े हमले की तैयारी में विद्रोही

दरअसल मणिपुर में विद्रोही संगठन बड़े हमले की तैयारी कर रहे हैं। बता दें कि सेना ने विद्रोही संगठनों के बीच हुई बातचीत को डिकोड किया है। जिससे सेना को पता चला है कि विद्रोही संगठन एक बड़े हमले की तैयारी कर रहे हैं और साथ ही उनकी योजना है कि उस हमले में लोगों को ढाल की तरह इस्तेमाल किया जाए। वहीं अब सेना भी इसे लेकर सतर्क हो गई है।

Latest news