April 24, 2024
  • होम
  • Manipur Violence: अमित शाह का बड़ा फैसला, राज्य में नहीं लगेगी धारा 355

Manipur Violence: अमित शाह का बड़ा फैसला, राज्य में नहीं लगेगी धारा 355

  • WRITTEN BY: Riya Kumari
  • LAST UPDATED : May 5, 2023, 9:05 pm IST

इम्फाल: इस समय मणिपुर हिंसा की आग में जल रहा है. पूर्वोत्तर राज्य में हिंसा को लेकर केंद्र सरकार भी काफी सक्रिय दिखाई दे रही है. इसी कड़ी में शुक्रवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उच्च स्तरीय बैठक की जिसमें राज्य के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल रहे. इस बैठक में अब अहम फैसला लिया गया है जिसके अनुसार मणिपुर में धारा 355 का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा.

क्या है धारा 355?

दरअसल धारा 355 के तहत केंद्र सरकार किसी भी राज्य की सुरक्षा और कानून को अपने हाथों में ले लेती है. यानी ये राज्य को बाहरी आक्रमण और आंतरिक अशांति से बचाने का एक उपाय है जिसमें पूरी ताकत केंद्र सरकार को दे दी जाती है. शुक्रवार को हुई गृह मंत्रालय की बैठक में ये फैसला लिया गया है कि मणिपुर हिंसा को लेकर धारा 355 का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. बता दें, गृह मंत्रालय ने राज्य में अपने अर्धसैनिक बलों की 10 अतिरिक्त कंपनी और एंटी राइट्स वाहन भेजने का निर्णय लिया है. इस बैठक में मणिपुर के सभी टॉप ऑफिशल्स भी मौजूद रहे.

20 लोगों की मौत

हालांकि मणिपुर में शुक्रवार को स्थिति कुछ बेहतर हुई है. सुरक्षा सलाहकार कुलदीप सिंह ने एक समाचार चैनल को बताया है कि फोर्स को अलग-अलग 2 जगहों पर तैनात किया गया है जहां चिंता की स्थिति बनी हुई है. बाकी व्यवस्थाओं को भी संभालने का प्रयास किया जा रहा है. अब तक इस हिंसा में 18 से 20 लोगों की जान चली गई है. 100 से ज्यादा लोग इस हिंसा में घायल हो गए हैं जिनका अस्पताल में इलाज किया जा रहा है.

हेल्पलाइन नंबर जारी

इसके अलावा हिंसा में 500 घर जलाए गए हैं. हिंसा के पहले ही दिन पुलिस आरोपियों को अरेस्ट करने में जुटी है. इसी कड़ी में शुक्रवार को भी 9 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. इन सभी लोगों के पास से लूटे गए हथियार बरामद किए गए हैं. राज्य में हेल्पलाइन नंबर 03852450214 और 6009030422 जारी किया गया है. इन नंबर्स पर कॉल किए जाने पर तुरंत जरूरी कार्रवाई की जा रही है.

कर्नाटक चुनाव: बजरंग दल बैन के वादे पर बढ़ा विवाद, BJP नेता ईश्वरप्पा ने जलाया कांग्रेस का घोषणा पत्र

कर्नाटक चुनाव: घोषणा पत्र में कांग्रेस का बड़ा ऐलान- बजरंग दल, PFI जैसे संगठन करेंगे बैन

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन