April 24, 2024
  • होम
  • Manipur Video: मणिपुर की घटना पर गंभीर होना होगा… महिलाओं के साथ हुई दरिंदगी पर मायावती

Manipur Video: मणिपुर की घटना पर गंभीर होना होगा… महिलाओं के साथ हुई दरिंदगी पर मायावती

  • WRITTEN BY: Riya Kumari
  • LAST UPDATED : July 21, 2023, 11:50 am IST

नई दिल्ली: मणिपुर में महिलाओं के साथ हुई दरिंदगी को लेकर इस समय पूरे देश में आक्रोश है जहां पीएम मोदी से लेकर सीएम एन बीरेन सिंह भी इस घटना पर नाराज़गी जताई है और दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है. अब इस मामले पर बसपा प्रमुख और उत्तर प्रदेश की पूर्व सीएम मयावाती का बयान सामने आया है. उन्होंने महिलाओं के साथ हुए इस अमानवीय कृत्य को लेकर लंबा चौड़ा ट्वीट किया है.

क्या बोलीं बसपा सुप्रीमों?

अपने पहले ट्वीट में मायावती ने लिखा है, ‘मणिपुर में महिलाओं के साथ भीड़ द्वारा जो दरिंदगी की गई वह अत्यन्त ही दुःखद, शर्मनाक तथा दिल को दहलाने वाली घटना है। राज्य व केन्द्र की सरकार को भी ऐसे आपराधिक तत्वों को इतनी सख़्त सज़ा दिलवानी चाहिए कि इस प्रकार के जघन्य अपराध की आगे कहीं भी पुनरावृत्ति ना हो सके.’ इसके बाद मायावती ने अगले ट्वीट में अपनी बात जारी रखते हुए लिखा, ‘लेकिन इस घटना को लेकर अब जो राजनीति की जा रही है वह भी अनुचित एवं चिन्तनीय। संसद में इस पर जरूर सार्थक चर्चा होनी चाहिए। जबकि इस घटना का मा. सुप्रीम कोर्ट ने भी खुद संज्ञान लिया है जिसे दबाया नहीं जा सकता है। अर्थात् मणिपुर की दुर्भाग्यपूर्ण घटना पर सभी को गंभीर होना जरूरी।’

संसद से लेकर सड़क तक विरोध

दूसरी ओर इस घटना को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने भी बयान जारी किया. सुप्रीम कोर्ट ने मणिपुर की स्थिति पर चिंता व्यक्त की है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि इस घटना से देश के 140 करोड़ नागरिक शर्मसार हुए हैं, क्योंकि जिस देश से सूरज उगता है वहाँ की बेटियों का सम्मान डूब गया है. अब तक इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

घृणित कृत्य में मणिपुर पुलिस ने अब तक चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इस मामले में सबसे पहले हुइरेम हेरादाश सिंह नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जो वायरल वीडियो में सबसे आगे भीड़ को कंट्रोल करता दिख रहा है. इस घटना में शामिल अन्य लगों को भी गिरफ्तार किया गया है जिनकी पहचान वीडियो के द्वारा ही की जा रही है. घटना को अंजाम देने वालों के खिलाफ अपहरण, सामूहिक बलात्कार और हत्या का मामला थौबल जिले के नोंगपोक सेकमाई पुलिस स्टेशन में दर्ज़ किया गया है.

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन