April 18, 2024
  • होम
  • Bhopal: भोपाल के महिला थाने को मिला ISO प्रमाण पत्र, ये उपलब्धि पाने वाला देश का पहला वुमन पुलिस स्टेशन

Bhopal: भोपाल के महिला थाने को मिला ISO प्रमाण पत्र, ये उपलब्धि पाने वाला देश का पहला वुमन पुलिस स्टेशन

भोपाल: मध्य प्रदेश के भोपाल के महिला थाना को ISO द्वारा प्रमाणित होने वाला देश का पहला महिला केंद्रित पुलिस स्टेशन बन गया है. सामुदायिक पुलिसिंग के तहत भोपाल पुलिस कमिश्नरेट द्वारा बनाए गए विक्टिम फ्रेंडली महिला थाना को अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन की टीम द्वारा मूल्यांकन एवं गुणवत्ता के तौर पर आइएसओ अवार्ड के लिए चयनित किया गया है. मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के कई आला अधिकारियों की मौजूदगी में 11 अक्टूबर को आइएसओ 9001:2015 सर्टिफिकेट प्रदान किया गया है।

आपको बता दें कि भोपाल का महिला थाना अब पूरे भारत का पहला आइएसओ 9001:2015 सर्टिफाइड थाना बन चुका है. इस दौरान पुलिस आयुक्त हरिनारायणाचारी मिश्र ने कहा कि महिला अपराधों पर नियंत्रण के लिए सामुदायिक पुलिसिंग के तहत लगातार प्रयास किए जा रहे हैं. हालांकि महिलाओं की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए सभी थानों में ऊर्जा हेल्प डेस्क सक्रिय है, लेकिन यह महिला संबंधी अपराधों के निराकरण करने के लिए प्रमुख केंद्र के रूप में है।

3 सालों में बुनियादी ढांचे पर किया काम

इस थाने को इस तरह बनाया गया है कि यह प्रयास महिला संबंधी अपराधों की रोकथाम में उनके प्रभावी ढंग से निराकरण करने में काफी मददगार साबित होगा. इस उपलब्धि के लिए उन्होंने महिला थाने के सभी स्टाफ को बधाई दी है. आपको बता दें कि एक समय में अपनी नम दीवारों, बदबूदार शौचालयों और जर्जर कमरों के लिए जाना जाने वाला भोपाल महिला थाना पिछले 3 सालों में अपने बुनियादी ढांचे पर काम करके शहर का दूसरा आईएसओ-प्रमाणित पुलिस स्टेशन बन गया है. आपको बता दें कि पहला मिसरोद पुलिस स्टेशन है।

यह भी पढ़े : 

केंद्र सरकार बनाएगी LGBTQIA+ समुदाय के लिए समिति, जानिए किसकी होगी अध्यक्षता

सेना की महिला अधिकारी अब चलाएगीं तोप और रॉकेट,आर्टिलरी रेजीमेंट में पहले बैच को मिला कमीशन

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो