Ramlala: रामलला का दर्शन करना चाहता है ये क्रिकेटर, खुद को बताता है बहुत बड़ा सनातनी

नई दिल्लीः साउथ अफ्रिका के दिग्गज क्रिकेटर केशव महाराज का कहना है कि मेरी ताकत ही मेरा धर्म है। अपने दाहीने हाथ में उन्होंने ओम नमः शिवाय लिखा कड़ा भी पहन रखा है। साथ ही वह अयोध्या जाकर रामलला का दर्शन करना चाहते हैं। उनका कहाना है कि धर्म और अध्यातम कठिन हालात में उनकी ताकत है। बता दें कि केशव मैदान पर भी कभी अपनी आस्था की अभिव्यक्ति से समझौता नहीं करते हैं और मैदान में उतरने पर डीजे से राम सियाराम बजाने को कहते हैं।

मैच के दौरान कहते हैं राम सीयारामा बजाने को

भारत के खिलाफ अपनी सरजमी पर हाल ही में टेस्ट सीरीज के दौरान मैदान पर उतरते समय उन्होंने डीजे से रामधुन बजाने के लिए कहा था और यह वीडियो काफी वायरल हुआ। भारतीय मूल के केशव ने एसए 20 फाइनल से पहले एक इंटरव्यू में कहा कि मैं काफी पूजा-पाठ और अध्यात्म में रूचि रखने वाले परिवार से हूं। उन्होंने कहा कि धर्म और अध्यात्म मुझ पर थोपे नहीं गए लेकिन मैं महसूस करता हूं कि कठिन हालात में यह मुझे मार्गदर्शन और एक रास्ता देते हैं। मैं अपनी आस्था से काफी जुड़ा हुआ हूं।

भारतीय मूल के हैं केशव महराज

बता दें कि केशव महाराज के दादा उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर से थे जो साउथ अफ्रीका के डरबन मजदूरी करने के लिए गए थे। जिसके बाद वह वहीं बस गए। केशव महाराज ने कहा कि मैं जब भी भारत आया और समय रहा तो अयोध्या रामलला का दर्शन करने जरुर जाऊंगा। खेल के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि क्रिकेट के विकास और प्रचार के लिए टी20 फॉर्मेंट जरुरी हैं।

ये भी पढ़ेः

Latest news