June 26, 2024
  • होम
  • Hockey World Cup: भारत का सपना टूटा, क्रिकेट के बाद हॉकी में भी न्यूजीलैंड बन रहा बड़ा दुश्मन

Hockey World Cup: भारत का सपना टूटा, क्रिकेट के बाद हॉकी में भी न्यूजीलैंड बन रहा बड़ा दुश्मन

नई दिल्ली। भारतीय हॉकी टीम को विश्व कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ क्रॉसओवर मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा है। इस हार ने करोड़ो भारतीय फैंस के दिलों को तोड़ दिया, जिनको लगता था टीम इंडिया इस बार हॉकी विश्व कप जीत सकती थी। बता दें कि टीम इंडिया और हॉकी विश्व कप की ट्रॉफी के बीच की दीवार न्यूजीलैंड टीम बनी। इस देश की टीम ने हमेशा से खेलों में भारतीय फैंस के दिलों को तोड़ा है। इस टीम ने भारत में सबसे ज्यादा खेले जाने वाले खेल क्रिकेट में भी भारत को हमेशा से दर्द दिया है। आइए आपकों बताते हैं कि किस-किस टूर्नामेंट में कीवी टीम भारत ट्रॉफी बीच आकर खड़ी हो गई।

हॉकी विश्व कप में दोनों देशों का इतिहास

भारत और न्यूजीलैंड के बीच हॉकी विश्व कप के इतिहास में इस बार सातवीं बार मुकाबला खेला गया। इससे पहले दोनों देश छह बार इस बड़े टूर्नामेंट में एक-दूसरे से टकरा चुकी हैं। इसमें भारतीय टीम ने तीन जबकि न्यूजीलैंड ने 2 मुकाबले जीते थे। जबकि दोनों टीमों के बीच एक मुकाबला 1-1 से बराबरी पर रहा। 1986 और 2002 के वर्ल्ड कप में टीम इंडिया को न्यूजीलैंड के हाथो 2-1 से हार का सामना करना पड़ा था, वहीं इसके अलावा 1982 के वर्ल्ड कप एक और 1998 के टूर्नामेंट में दो जीत मिली थी।

2019 वनडे वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल

क्रिकेट और हॉकी दोनों ही खेलों में न्यूजीलैंड, भारतीय टीम के ट्रॉफी जीतने की रास्ते में बाधा बनती रही है। कई सारे अहम और नॉकआउट मैच में भारत को न्यूजीलैंड के हाथो हार का सामना करना पड़ा है। 2019 का वनडे वर्ल्ड कप भी इसी का उदाहरण है। विराट कोहली की अगुवाई में भारतीय टीम ने शानदार खेल दिखाते हुए वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में जगह बनाई थी। इस नॉकआउट मैच में भारत का न्यूजीलैंड की टीम से सामना हुआ था। मैनचेस्टर में हुए इस रोमांचक मुकाबले में भारत को 18 रनों से हार का सामना करना पड़ा था। ये मैच महेंद्र सिंह धोनी का आखिरी मैच भी साबित हुआ।

2021 टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल

आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले को भला कौन भूल सकता है। टेस्ट क्रिकेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट का आयोजन 2021 में पहली बार हो रहा था। इंग्लैंड के साउथैंप्टन मैदान में हुए इस टूर्नामेंट के फाइनल में एक बार फिर भारत का सामना न्यूजीलैंड से हुआ। टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए कुल 217 रन बनाए और फिर गेंदबाजों ने कीवी टीम को 249 रनों पर ऑलआउट कर दिया। इसके बाद टेस्ट से दूसरे पारी में भारत महज 170 रन ही बना सकी और कीवी टीम को 139 रनों का आसान सा टारगेट मिल गया। न्यूजीलैंड ने ये टारगेट हासिल करके एक बार फिर भारतीय फैंस के सपने को तोड़ दिया।

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन