April 24, 2024
  • होम
  • कॉमनवेल्थ गेम्स 2022: लवलीना बोरगोहेन मेडल से महज एक कदम दूर, क्‍वार्टर-फाइनल में पहुंची

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022: लवलीना बोरगोहेन मेडल से महज एक कदम दूर, क्‍वार्टर-फाइनल में पहुंची

 

नई दिल्ली। भारत के लिए शनिवार का दिन कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 (Commonwealth Games) में काफी शानदार रहा. बीते दिन भारतीय वेटलिफ्टरों (Indian weightlifter) ने चार पदक जीते. जहां महिला वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने 49 किलोग्राम वर्ग में राष्ट्रमंडल खेल 2022 में भारत को पहला गोल्ड मेडल दिलाया. वहीं भारतीय मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई हैं.

बता दें कि 22वें राष्ट्रमंडल खेलों के लाइट मिडिलवेट 70 किलोग्राम भार वर्ग में लवलीना बोरगोहेन ने शनिवार को अपने अभियान की शुरुआत जीत के साथ की है. ओलंपिक ब्रॉज मेडलिस्ट लवलीना बोरगोहेन ने न्यूजीलैंड की एरियन निकोलसन को आसानी से हरा कर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई है. वहीं, अब वो इस कॉमनवेल्थ गेम्स में अपना मेडल पक्का करने से महज एक जीत दूर खड़ी हैं.

5-0 से न्यूजीलैंड की एरियन निकोलसन को हराया

गौरतलब है कि कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के दौरान शनिवार को लाइट मिडिलवेट कैटेगरी की फाइट के बीच लवलीना बोरगोहेन ने न्यूजीलैंड की एरियन निकोलसन को कड़ी टक्कर देते हुए 5-0 से मात दी. खेलने के दौरान लवलीना (Lovlina Borgohain) ने अपनी लंबाई का फायदा उठाते हुए खुद से 15 साल बड़ी अपनी प्रतिद्वंद्वी को थका दिया. जिससे उन्हें आसानी से जीत मिल गई.

3 अगस्त को वेल्‍स की रोज़ी एक्लेस से होगी भिड़ंत

वहीं, अब लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) का 3 अगस्त को बुधवार के दिन क्वार्टर फाइनल में कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 (Commonwealth Games 2018) की रजत पदक विजेता वेल्‍स की रोज़ी एक्लेस से मुकाबला होगा. अगर लवलीना बोरगोहेन वेल्‍स की रोज़ी एक्लेस को हरा देती हैं तो वह कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में अपना एक पदक पक्का कर लेंगी. फिलहाल यह मैच काफी रोमांचक होने की उम्मीद लगाई जा रही है.

यह भी पढ़े-

Vice President Election 2022: जगदीप धनखड़ बनेंगे देश के अगले उपराष्ट्रपति? जानिए क्या कहते हैं सियासी समीकरण

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन