June 17, 2024
  • होम
  • कृष्ण जन्माष्टमी पर बन रहे दुर्लभ संयोग, धन वृद्धि के लिए इस दिन कर लें ये उपाय

कृष्ण जन्माष्टमी पर बन रहे दुर्लभ संयोग, धन वृद्धि के लिए इस दिन कर लें ये उपाय

  • WRITTEN BY: Aanchal Pandey
  • LAST UPDATED : August 15, 2022, 10:35 pm IST

नई दिल्ली, संशय दूर करते हुए श्रीकृष्ण जन्मस्थान ने 19 अगस्त को जन्माष्टमी का आयोजन करने का ऐलान कर दिया है. इसके अलावा द्वारिकाधीश और बांकेबिहारी में भी इसी दिन जन्माष्टमी मनाई जाएगी, इस घोषणा के बाद मंदिरों में तैयारी शुरू हो गई है. वहीं द्वारिकाधीश मंदिर के मीडिया प्रभारी राकेश तिवारी ने बताया कि मंदिर में कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व 19 अगस्त को मनाया जाएगा. वहीं बांके बिहारी मंदिर में भी जन्माष्टमी 19 को ही मनाई जाएगी, बांके बिहारी में जन्माष्टमी पर होने वाली मंगला आरती 19-20 अगस्त की रात दो बजे की जाएगी.

करें ये उपाय

बरकत के लिए

श्रीकृष्ण की पूजा में आप उन्हें एक पान का पत्ता ज़रूर करें, इसके बाद इस पत्ते पर रोली से श्री यंत्र लिखें और तिजोरी या फिर धन के स्थान पर रख दें. कहते हैं इससे कभी घर में दरिद्रता नहीं आती और हमेशा बरकत होती है.

संतान के लिए

निसंतान दंपत्ति जन्माष्टमी के दिन घर पर गाय या बछड़े की मूर्ति ज़रूर लाए, इसके बाद कान्हा के साथ इनकी भी विधिवत पूजा करें. मान्यता है कि इससे संतान सुख प्राप्त होता है, साथ ही संतान से संबंधित अन्य परेशानियां भी दूर होती हैं.

आमदनी के लिए

नौकरी में पदोन्नति और आमदनी में बढ़ोत्तरी की इच्छा पूर्ति के लिए जन्माष्टमी पर 7 कन्याओं को खीर या सफेद मिठाएं बांटे, ये उपाय जन्माष्टमी के बाद लगातार पांच शुक्रवार तक करें, इससे आपकी आमदनी में बढ़ोतरी होगी.

केसर-चंदन

जन्माष्टमी पर केसर या चंदन में गुलाब जल मिलाकर तिलक लगाएं, इसके साथ ही गोपी चंदन से कृष्ण का श्रृंगार करें. माना जाता है कि ऐसा करने से घर में सुख-समृद्घि आती है. साथ ही मां लक्ष्मी की कृपा से धन की कमी नहीं होती.

जन्माष्टमी साल के बड़े त्योहारों में से एक है, मुख्य रूप से जन्माष्टमी की पूजा मथुरा, वृन्दावन और द्वारिका में विधि विधान से की जाती है. धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, भगवान श्री कृष्ण का जन्म इसी दिन हुआ था. ऐसी मान्यता है कि जन्माष्टमी के दिन व्रत करने से भगवान श्री कृष्ण सभी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं.

 

 

PM Modi Speech: लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी का संबोधन, जानिए मुख्य बातें

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन