Basant Panchami 2024 Date: 13 या फिर 14 फरवरी कब मनाई जाएगी बसंत पंचमी ? जानें डिटेल

नई दिल्लीः सनातन धर्म में बसंत पंचमी का विशेष महत्व है। इस दिन ज्ञान की देवी मां सरस्वती की विधिपूर्वक पूजा की जाती है। हर वर्ष बसंत पंचमी माघ माह की शुक्ल पक्ष पंचमी को मनाई जाती है। इस बार यह उत्सव 23 फरवरी को होगा। मान्यता के अनुसार इस दिन देवी सरस्वती की पूजा करने से साधकों को उनकी कृपा प्राप्त होती है और शिक्षा के क्षेत्र में सफलता प्राप्त होती है। पंचांग के अनुसार, माघ माह पर पंचमी तिथि 13 फरवरी को शुरू होगी और 14 फरवरी को समाप्त होगी। ऐसे में बसंत पंचमी कब मनाई जाएगी, इस बारे में लोग असमंजस में हैं। तो चलिए जानें कब मनाई जाएगी बसंत पंचमी

बसंत पंचमी 2024 शुभ मुहूर्त

पंचांग के अनुसार, माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि 13 फरवरी को दोपहर 2:41 बजे शुरू होगी और अगले दिन यानी कि 14 फरवरी को दोपहर 12:09 बजे समापन होगा। सनातन धर्म में उदया तिथि का विशेष महत्व है। इस बीच 14 फरवरी, बुधवार को बसंत पंचमी होगी। इस दिन आप सुबह 7:01 बजे से दोपहर 12:35 बजे तक देवी सरस्वती की पूजा कर सकते हैं।

बसंत पंचमी पूजा विधि

1 बसंत पंचमी के दिन सुबह जल्दी उठकर देवी सरस्वती का ध्यान करके अपने दिन की शुरुआत करें।

2 इसके बाद स्नान कर पीले वस्त्र धारण करें।

3 इसके बाद मंदिर को गंगा जल छिड़क कर साफ और शुद्ध किया जाता है।

4 एक चौकी पर पीला या लाल कपड़ा बिछाकर मां सरस्वती की प्रतिमा स्थापित करें और उन्हें पीले वस्त्र अर्पित करें।

5 अब मां सरस्वती को अक्षत, चंदन, पीले फूल, दीपक और इत्र अर्पित करें।

6 मां सरस्वती की विधिपूर्वक पूजा करें और सरस्वती वंदना का पाठ करें। मां सरस्वती के मंत्र का जाप भी करते हैं.

7 सरस्वती मां की आरती करें।

8 मां सरस्वती को गुड के लड्डू और गर्म आटे का भोग लगाएं। सुनिश्चित करें कि आप अपने प्रसाद में तुलसी दल भी शामिल करें।

9 अब प्रसाद को लोगों में बांट दें और खुद भी ग्रहण करें.

यह भी पढ़ें- http://Lauki Benefits: सफेद बालों से या बढ़ते वजन से छुटकारा पाना चाहते हैं तो अपने खाने में शामिल करें लौकी

 

Latest news