May 25, 2024
  • होम
  • Chanakya Niti: इन पांच जगहों पर कभी न बसाएं अपना घर, भविष्य में झेलनी पड़ सकती है परेशानियां

Chanakya Niti: इन पांच जगहों पर कभी न बसाएं अपना घर, भविष्य में झेलनी पड़ सकती है परेशानियां

  • WRITTEN BY: Shiwani Mishra
  • LAST UPDATED : February 27, 2024, 8:53 am IST

नई दिल्ली: आचार्य चाणक्य ने अपने व्यक्तिगत जीवन, कार्य, व्यवसाय, रिश्तों, मित्रों और शत्रुओं के विभिन्न पहलुओं के संबंध में अपने नैतिक सिद्धांतों को विस्तार से उजागर किया है. चाणक्य नीति कहती है कि मानव जीवन अनमोल है, और यदि आप इस जीवन को सफल और सार्थक बनाना चाहते हैं, तो आपको कुछ बातों को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए.

Chanakya Niti: इन 5 जगहों पर भूलकर भी न बनाएं आशियाना, क्या कहती है चाणक्य  नीति | chanakya niti says do not choose these 5 places for built house |  TV9 Bharatvarsh

इसके साथ ही आचार्य चाणक्य अपनी पुस्तक चाणक्य नीति में इस श्लोक में कहते हैं कि “लोकयात्रा भयं लज्जा दाक्षिण्यं त्यागशीलता। पञ्च यत्र न विद्यन्ते न कुर्यात्तत्र संगतिम् ॥” उन जगहों के बारे में बात करता है जहां आपको अपना घर नहीं रखना चाहिए. जब आप ऐसी जगहों पर बस जाते हैं तो आपको कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है. तो चलिए जानते हैं इसके बारे में…

Chanakya Niti: जीवन में चाहते हैं बड़ा बदलाव तो मान लें चाणक्य की ये बात |  Chanakya Niti In Hindi: Follow These Tips If You Want to Change Your Life -  Hindi Boldsky
1. आचार्य चाणक्य कहते हैं कि जहां आपको लोक-अपमान का भय न हो, वहां पर घर नहीं बनाना चाहिए. ऐसा माना जाता है कि वहा बसना सबसे अच्छा है जहां सामाजिक मूल्य उच्चतम हों.சாணக்கிய நீதி உங்களிடம் கொட்டிக்கிடக்கும் பணத்தை விட இந்த விஷயம்தான் உங்களை  ஆபத்தில் இருந்து காப்பாற்றுமாம்... | Chanakya Niti: This One Quality Has  More ...

2. आचार्य चाणक्य के मुताबिक उस देश को छोड़ देना ही बेहतर है जहां आपके साथ सम्मान का व्यवहार नहीं किया जाता है, जहां आपके पास कोई आजीविका नहीं है, कोई दोस्त और रिश्तेदार नहीं हैं और ज्ञान और कौशल हासिल करने का कोई अवसर नहीं है. हालांकि कोई व्यक्ति किसी दूसरे देश या स्थान पर रहना चाहता है,

Chankya Niti About Women क्योंकि अगर आप वहां जाएंगे तो नई चीजें, नया ज्ञान, काम और नए कौशल सीख सकते हैं, और इन सुविधाओं के बिना किसी देश या स्थान की यात्रा करने का कोई भी मतलब नहीं है.Chanakya Niti: चाणक्य के अनुसार बांटने से बढ़ते हैं ये दुःख, दूसरों से कभी  न करें शेयर | Chanakya Niti: Never Share Your These Personal Sorrows with  Anyone in Hindi - Hindi Boldsky

3. चाणक्य नीति के मुताबिक जिस जगह वेद को जानने वाला ब्राह्मण, धनिक, राजा, नदी और वैद्य ना हों, उस स्थान पर व्यक्ति को एक दिन भी नहीं रहना चाहिए.Chanakya Niti: ये लोग होते हैं बहुत भाग्यशाली, धरती पर पर भोगते हैं जन्नत  का सुख | Chanakya Niti in Hindi: Earth Is Like Heaven To These People, Gets  All The Happiness

4.चाणक्य नीति के अनुसार ऐसे देश में नहीं रहना चाहिए जहां लोग भिक्षा देने की भावना ना हो, क्योंकि भिक्षा से ना केवल पुण्य मिलता है, बल्कि आत्मा भी शुद्ध होती है.Chanakya Niti: सफलता का स्वाद चखना चाहते हैं तो ऐसे करें दिन की शुरुआत |  Chanakya Niti in Hindi: Begin Your Day Like This, You Will Get Success In  Every Work -

5.आचार्य चाणक्य भी कहते हैं कि व्यक्ति को ऐसे स्थान पर रहना चाहिए जहां वो स्वार्थवश कानून ना तोड़ता हो, बल्कि दूसरों की भलाई के लिए काम करें और समाज की सेवा करें. आपको ऐसे स्थान पर रहना चाहिए जहां लोग एक साथ रहते हों.

Ayushmann Khurrana: अपने पिता की सीख को याद करते हुए जानें आयुष्मान खुराना ने क्या कहा

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन