April 18, 2024
  • होम
  • जब भी संविधान खतरे में आया कांग्रेस ने सबसे पहले… अध्यादेश को लेकर AAP को समर्थन देने पर बोले अधीर रंजन

जब भी संविधान खतरे में आया कांग्रेस ने सबसे पहले… अध्यादेश को लेकर AAP को समर्थन देने पर बोले अधीर रंजन

  • WRITTEN BY: Vaibhav Mishra
  • LAST UPDATED : July 16, 2023, 10:16 pm IST

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी ने आज केंद्र के अध्यादेश के खिलाफ आम आदमी पार्टी को समर्थन देने का ऐलान कर दिया. इसके बाद AAP ने भी 17-18 जुलाई को बेंगलुरु में होने वाली विपक्षी एकता की बैठक में शामिल होने की घोषणा कर दी. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, पंजाब के सीएम भगवंत मान और राज्यसभा सांसद संजय सिंह के साथ इस महाबैठक में हिस्सा लेंगे. अध्यादेश के खिलाफ AAP को समर्थन देने पर कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि जब भी देश और संविधान खतरे में आया है तब कांग्रेस पार्टी ने सबसे पहले जंग छेड़ी है.

कांग्रेस का यही इतिहास रहा है

अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि जब भी देशहित और आम जनता पर खतरा आता है तब कांग्रेस पार्टी विरोध में खड़ी होती है. संसद में कांग्रेस का यही इतिहास रहा है. अधीर रंजन चौधरी ने आगे कहा कि हमारा हमेशा से यही उसूल है कि जब भी देश और संविधान खतरे में आया है तब कांग्रेस सबसे पहले जंग छेड़ती है.

सांसद राघव चड्ढा ने ये कहा

AAP के राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने आगे बताया कि आज हुई पॉलिटिकल अफेयर्स कमेटी की मीटिंग में केंद्र सरकार के अध्यादेश के हर पहलू पर विस्तार से चर्चा हुई. केंद्र सरकार का अध्यादेश स्पष्ट तौर पर देश विरोधी कानून है. इस देश से प्यार करने वाला हर शख्स इस अध्यादेश का विरोध करेगा और इसे हराने में अपना योगदान देगा. इसी क्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने देश की सभी विपक्षी पार्टियों से इस देश विरोधी कानून को संसद के अंदर हराने के लिए समर्थन मांगा है.

Opposition meet in Bengaluru: 18 जुलाई को बेंगलुरु में विपक्ष की दूसरी महाबैठक, 24 दल होंगे शामिल

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो