April 18, 2024
  • होम
  • UK News:लंदन में खालिस्तान समर्थकों का दुस्साहस, भारतीय उच्चायोग के बाहर किया प्रदर्शन

UK News:लंदन में खालिस्तान समर्थकों का दुस्साहस, भारतीय उच्चायोग के बाहर किया प्रदर्शन

  • WRITTEN BY: Sachin Kumar
  • LAST UPDATED : October 2, 2023, 8:04 pm IST

नई दिल्लीः खालिस्तान टाईगर फोर्स के प्रमुख हरदीप सिंह निज्जर के हत्या के बाद से खालिस्तान समर्थकों का विरोध प्रदर्शन रुकने का नाम नहीं ले रहा है। कुछ दिन पहले ही स्कॉटलैंड में खालिस्तानी समर्थकों ने भारतीय राजदूत को गुरुद्वारा में जाने से रोक दिया था। वहीं अमेरिका में बैठे खालिस्तानी आतंकी पन्नू ने धमकी दिया था कि भारत में होने वाले विश्व कप में बाधा पहुंचाएंगे। अहमदाबाद में होने वाले मैच हमारे निशाने पर रहेगा। अब लंदन में खालिस्तानी समर्थकों ने भारतीय उच्चोयोग के बाहर प्रदर्शन किया है।

लंदन में भारतीय उच्चायोग के बाहर प्रदर्शन

इंग्लैंड में खालिस्तान समर्थकों ने एक बार फिर से दुस्साहस करते हुए लंदन स्थित भारतीय दुतावास के बाहर सोमवार को भारी संख्या में इकट्ठा हुए। वहां उनलोगों ने काफी देर तक विरोध- प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों को देखते हुए उच्चायोग के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल को तौनात किया गया था। इससे पहले इसी साल के जुलाई महीने में 30- 40 खालिस्तान समर्थकों ने भारतीय दूतावास के बाहर इकट्ठा होकर विरोध प्रदर्शन किया था। यहीं नहीं समर्थक अन्य देशों में स्थित भारतीय दूतावास को निशाना बना चुके है।

अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया में बढ़ रही घटनाएं

रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका में भारत के राजदूत तरनजीत सिंह संधू और सैन फ्रांसिस्को में भारत के महावाणिज्य दूतावास में काउंसिल जनरल डॉ. टीवी नागेंद्र प्रसाद को धमकी दी गई थी और पोस्टरों के जरिए निशाना बनाया गया था। इससे पहले खालिस्तान समर्थकों ने ऑस्ट्रेलिया में भारतीय राजनयिकों को धमकियां दी थी। ऑस्ट्रेलिया में भारत के उच्चायुक्त मनप्रीत वोहरा और मेलबर्न में भारत के महावाणिज्य दूतावास के काउंसिल जनरल सुशील कुमार को भी धमकी दी गई थी।

 

निज्जर की हत्या के बाद विरोध- प्रदर्शन तेज

विदेशों में ऐसी घटनाएं जून में खालिस्तान टाइगर फोर्स के चीफ हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के बाद बढ़ गईं हैं। वह भारत में वांछित था और राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने उसकी गिरफ्तारी के लिए इनामी राशी की घोषणा की थी। निज्जर की हत्या के बाद से खालिस्तानी कनाडा, ब्रिटेन, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया में भारतीय राजनयिकों को निशाना बना रहे हैं।

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो