May 19, 2024
  • होम
  • Bharat Bandh: किसान संगठनो ने करवाया भारत बंद, पंजाब में पड़ेगा इसका असर! दिल्ली-एनसीआर में सुरक्षा व्यवस्था में की कड़ाई

Bharat Bandh: किसान संगठनो ने करवाया भारत बंद, पंजाब में पड़ेगा इसका असर! दिल्ली-एनसीआर में सुरक्षा व्यवस्था में की कड़ाई

  • WRITTEN BY: Shiwani Mishra
  • LAST UPDATED : February 16, 2024, 8:53 am IST

नई दिल्ली: 16 फरवरी यानि आज किसान संगठनों ने भारत बंद का आह्वान किया है. किसान ग्यारह और मांगों के साथ-साथ एमएसपी गारंटी को लेकर फिर से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. बता दें कि अपनी मांगों को लेकर केंद्र पर दबाव बनाने के लिए किसान संगठन आज यानी 16 फरवरी को सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक भारत बंद का एलान किया है.

किसानों के इस प्रदर्शन के द्वारा रेल यातायात में आ रही है रुकावटभारत बंद: Delhi से बाहर के रास्ते बंद, Patiala में प्रदर्शनकारी किसान ट्रेन  की पटरी पर बैठे - Bharat Bandh: Farmers sat on railway tracks in Patiala -  ek aur ek gyarah AajTak

बता दें कि भारत बंद का आह्वान किसानों के दिल्ली चलो विरोध प्रदर्शन के बीच आया है. किसानों के इस प्रदर्शन के द्वारा रेल यातायात में रुकावट आ रही है. हालांकि करीबन 6 ट्रेनों को लुधियाना-साहनेवाल-चंडीगढ़ रूट पर डायवर्ट कर दिया गया है, और इस हड़ताल के दौरान परिवहन, कृषि गतिविधियां, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम, ग्रामीण कार्य, निजी कार्यालय, गांव की दुकानें और ग्रामीण औद्योगिक और सेवा क्षेत्र के कई संस्थानों के बंद रहने की आशंका है.

यातायात बंद रखने का एलान किया है

भारत बंद के बीच पंजाब के जालंधर में टैक्सी और ऑटो यूनियन ने भी 16 फरवरी यानी आज यातायात बंद रखने का एलान किया है, और उन्होंने बताया है कि वो भी किसान आंदोलन का पूरा समर्थन कर रहे हैं. बता दें कि इस बंद का असर राजधानी दिल्ली में कम देखने को मिल सकता है, क्योंकि यहां 700 बाजार और औद्योगिक कारखाने खुले रहने वाले है. तो वहीं इस आंदोलन का असर सिर्फ पंजाब में ज्यादा देखने को मिलेगा.Bharat Bandh: 8 December: Congress AAP TRS support farmers protests Bharat  band will protests at various places including Delhi - Bharat Bandh:  किसानों के 8 दिसंबर के 'भारत बंद' को कांग्रेस, AAP,

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान की मौजूदगी में ही किसान संगठनों और केंद्र सरकार के मंत्रियों पीयूष गोयल, अर्जुन मुंडा और नित्यानंद के बीच चंडीगढ़ सैक्टर-26 स्थित मगसीपा परिसर में देर रात 1:30 बजे तक की बैठक चली है. दरअसल इस बैठक के बाद किसान नेताओं ने मीडिया को बताया है कि संतोषजनक चर्चा रही है, लेकिन उन्होंने किसानों पर बल प्रयोग करने जाने की निंदा भी की जा रही है. जबकि दिल्ली-एनसीआआर के प्रशासन इस बंद को लेकर बहुत चौकन्ने हैं, और नोएडा में इस बंद को देखते हुए धारा 144 लागू भी कर दी गई है. साथ ही सीमा पर सुरक्षा सेवा भी बढ़ा दी गई है.

मोदी सरकार: कोई कानूनी गारंटी नहीं, एमएसपी में रिकॉर्ड हुई बढ़ोतरी! कृषि क्षेत्र की वित्तीय स्थिति बेहतर बनाने पर हुआ काम

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन