Rajya Sabha: भारी हंगामे के बाद राज्यसभा से तीन और सांसद निलंबित, अब तक कुल 27 सदस्यों पर कार्रवाई

Rajya Sabha:

नई दिल्ली। संसद में भारी हंगामे के बीच आज राज्यसभा से तीन और सांसदों को निलंबित कर दिया गया है। इन सांसदों में आम आदमी पार्टी के सुशील गुप्ता, संदीप पाठक और भुइयां का नाम शामिल है। इन सभी को इस हफ्ते के लिए निलंबित किया गया है।

अधीर रंजन के बयान को लेकर हंगामा

कांग्रेस नेता अधीर रंजन द्वारा राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के लिए इस्तेमाल किए गए आपत्तिजनक शब्द को लेकर आज बीजेपी ने लोकसभा में जोरदार विरोध किया। बीजेपी की महिला सांसदों ने सदन के अंदर और बाहर कांग्रेस के खिलाफ नारेबाजी की। इस दौरान केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता स्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस आदिवासी और गरीब, महिला विरोधी है।

राज्यसभा से निलंबित हैं ये सांसद

बता दें कि इससे पहले राज्यसभा के 20 सदस्यों को एक हफ्ते के लिए निलंबित कर दिया गया। जिनमें संजय सिंह, मौसम नूर, एल. यादव, वी. शिवादासन, अबीर रंजन बिस्वास, सुष्मिता देव, शांता छेत्री, मोहम्मद अब्दुल्लाह, एए रहीम, कनिमोझी, डॉ. शांतनु सेन, नदीम उल हक और डोला सेन का नाम शामिल हैं। इन सांसदों पर वेल में प्रवेश करके नारेबाजी करने और कागज फाड़ने के आरोप में निलंबित किया गया है।

लोकसभा से भी विपक्षी सांसदों का निलंबन

गौरतलब है कि राज्यसभा से पहले संसद के निचले सदन लोकसभा में भी हंगामा देखने को मिला। महंगाई, बेरोजगारी, जीएसटी के विरोध में नारेबाजी के बाद कांग्रेस पार्टी के चार सांसदों को लोकसभा के बाकी बचे सत्र से निलंबित कर दिया गया। इन सभी पर आरोप है कि इन्होंने हाथ में तख्तियां लेकर सदन के अंदर नारेबाजी की। जिसके बाद लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने चेतावनी देते हुए कहा कि किसी भी सांसद को सदन में तख्तियां लेकर कार्यवाही में भाग लेने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

Vice President Election 2022: जगदीप धनखड़ बनेंगे देश के अगले उपराष्ट्रपति? जानिए क्या कहते हैं सियासी समीकरण

Latest news