March 2, 2024
  • होम
  • सड़क की जगह कोर्ट से चलेगा पहलवानों का आंदोलन… सोशल मीडिया से ब्रेक का भी ऐलान

सड़क की जगह कोर्ट से चलेगा पहलवानों का आंदोलन… सोशल मीडिया से ब्रेक का भी ऐलान

  • WRITTEN BY: Riya Kumari
  • LAST UPDATED : June 26, 2023, 6:39 am IST

नई दिल्ली: भारत के कुछ शीर्ष पदक विजेता पहलवान भाजपा सांसद और WFI प्रमुख रहे बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर रहे हैं. भाजपा सांसद पर यौन उत्पीड़न करने का आरोप है जिसे लेकर उनपर मुकदमा भी दर्ज़ कर लिया गया है. हालांकि बृजभूषण शरण सिंह को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर पिछले पांच महीने से विरोध प्रदर्शन जारी है. अब महिला पहलवान साक्षी मलिक ने ट्वीट कर बड़ी घोषणा की है.

कोर्ट में चलेगी लड़ाई

रविवार को साक्षी मलिक ने एक ट्वीट कर बताया है कि अब उनकी लड़ाई सड़क के बजाय कोर्ट में चलेगी. वह आगे लिखती हैं कि इस मामले में पहलवानों का विरोध उस समय तक जारी रहेगा जब तक हमें न्याय नहीं मिल जाता है. लेकिन ये लड़ाई अब कोर्ट में चलेगी सड़क पर नहीं. साक्षी मलिक द्वारा ये बयान पोस्ट करने के कुछ ही समय बाद दूसरी महिला पहलवान विनेश फोगाट का भी ट्वीट सामने आया. उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा कि वह अगले कुछ समय के लिए सोशल मीडिया से ब्रेक लेना चाहती हैं. आगे विनेश फोगाट कहती हैं कि भारतीय कुश्ती महासंघ के सुधार को देखते हुए वादे के अनुसार चुनाव प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. 11 जुलाई को चुनाव के संबंध में हम किए गए वादों के पूरा होने का इंतज़ार कर रहे हैं.

सरकार करेगी वादे पूरे

आगे साक्षी मलिक ने लिखा कि सरकार के साथ 7 जून को की गई बातचीत में पहलवानों से जो वादे किए गए उनपर अमल किया गया. इसी कड़ी में छह महिला पहलवान द्वारा लगाए गए आरोपों के खिलाफ FIR दर्ज़ कर दिल्ली पुलिस ने जांच कर कोर्ट में 15 जून को चार्जशीट पेश कर दी है. वह आगे लिखती हैं कि न्याय मिलने तक पहलवानों की ये लड़ाई सड़क के स्थान पर अब कोर्ट में जारी रहेगी.

11 जुलाई को WFI का चुनाव

साक्षी मलिक ने आगे बताया कि वादे के अनुसार नई कुश्ती संघ के चुनाव की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है. 11 जुलाई को चुनाव भी होना तय किया गया है. इस संबंध में पहलवान आगे सरकार द्वारा जो वादे किए गए हैं उनके अमल होने का इंतज़ार कर रहे हैं.

 

इस दौरान योगेश्वर दत्त ने पहलवानों की है जिन्हें जवाब देते हुए साक्षी मलिक ने कहा कि हमने कभी भी किसी का हक़ नहीं मारा है और न ही कभी ऐसा करेंगे. वह आगे कहती हैं कि हम कुश्ती में मेहनत करने के बाद वहाँ पहुंचे हैं जहां आज हम हैं. हम 6 महीने से कुश्ती नहीं कर पाए हैं इसलिए हमने केवल ट्रायल और कुछ समय मांगा.

 

Tags