June 17, 2024
  • होम
  • कामयाब रहा ट्विन टावर का ध्वस्तीकरण, इमारतों को नहीं हुआ नुकसान- नोएडा कमिश्नर

कामयाब रहा ट्विन टावर का ध्वस्तीकरण, इमारतों को नहीं हुआ नुकसान- नोएडा कमिश्नर

  • WRITTEN BY: Aanchal Pandey
  • LAST UPDATED : August 28, 2022, 3:35 pm IST

नोएडा, नोएडा के ट्विन टावर्स धवस्त हो गए हैं, घटनास्थल से जो वीडियो सामने आए हैं उसमें महज 2 सेकेंड में जमींदोज हो गए. इसके बाद चारों तरफ सिर्फ धुंआ ही धुंआ देखने को मिला. ट्विन टावर्स के ध्वस्तीकरण के बाद नोएडा एक्सप्रेस वे पर धूल ही धूल जमा हो गई. इस ध्वस्तीकरण को देखने के लिए नोएडा एक्सप्रेस वे पर सैकड़ों लोग जमा हो गए, जबकि 500 मीटर के एरिया में किसी को भी रहने की इजाजत नहीं थी, आज दोपहर 2 बजकर 15 मिनट पर एक्सप्रेस वे पर ट्रैफिक पूरी तरह बंद कर दिया गया था और ठीक 2.30 बजे टावर्स को ध्वस्त कर दिया. लगभग 100 मीटर ऊंचे टावर को गिराने के लिए इसमें 3,700 किलोग्राम से ज्यादा बारूद भरी गई थी.

“नहीं हुआ नुकसान.. “

ट्विन टावर के ध्वस्तीकरण के बाद नोएडा पुलिस आयुक्त ने कहा, ‘पूरे प्लान के साथ काम किया गया और टावर को ध्वस्त कर दिया गया, इस ध्वस्तीकरण के मद्देनजर सुरक्षा के पूरे इंतज़ाम थे जिस कारण से सब कुछ सही से हुआ. हम मलबे और बचे हुए विस्फोटकों का आंकलन करने के लिए साइट पर जाने वाले हैं. वहीं, नोएडा की CEO रितु माहेश्वरी ने कहा, ‘इस ध्वस्तीकरण के चलते आस-पास की हाउसिंग सोसाइटियों को कोई नुकसान नहीं हुआ है. अभी कुछ मलबा सड़क की तरफ आया है, एक घंटे के अंदर ये स्थिति पूरी साफ़ हो जाएगी.’

ट्विन टावर को गिराने में कितना खर्च

सुपरटेक के ट्विन टावर्स को गिराने में तकरीबन 17.55 करोड रुपये का खर्च आया है, दिलचस्प बात तो ये है कि इसे गिराने का खर्च भी बिल्डर कंपनी सुपरटेक ने वहन किया है. दोनों ही टावरो में कुल 950 फ्लैट्स बने चुके थे, 200 से 300 करोड़ रुपये की लागत से इस ट्विन टावर का निर्माण किया था.

 

Twin Tower: 9 सेकेंड में मलबे का ढेर बन गया ‘ट्विन टावर’, 3700 किलोग्राम विस्फोटकों ने किया जमींदोज

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन