Mani Shankar Aiyar: कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने की पाकिस्तान की तारीफ, बेटी ने रखा था विरोध में उपवास

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर अपने बेबाक टिप्पणियों की वजह से पहले भी कई बार विवादों के कटघरे में खड़े रह चुके हैं। वहीं एक बार फिर उन्होंने पाकिस्तान जाकर पाकिस्तानियों(Mani Shankar Aiyar) की तारीफ कर दी है।

दरअसल, उन्होंने पाकिस्तान में जाकर भारत की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। जानकारी के मुताबिक कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने एक कार्यक्रम के दौरान पाकिस्तान की सराहना की है। इस दौरान उन्होंने कहा है कि आज तक किसी भी दूसरे देश में मेरा ऐसा स्वागत नहीं किया गया है, जितना की पाकिस्तान में किया गया। बता दें कि मणिशंकर अय्यर अपने विवादास्पद बयानों के लिए जाने जाते हैं। साल 2017 गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी के लिए अपमानजनक टिप्पणी की थी और इस पर काफी विवाद हो गया था। जिसके बाद उनके इस बयान से किनारा करते हुए कांग्रेस ने उन्हें निलंबित कर दिया था और बाद में उन्हें अपने इस बयान पर माफी भी मांगनी पड़ी थी।

क्या कहा अय्यर ने?

जानकारी दे दें कि अय्यर ने शनिवार को लाहौर के अलहमरा में फैज (Mani Shankar Aiyar) महोत्सव के दौरान पाकिस्तानियों की तारीफ की। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, अय्यर ने कहा था कि जब वे कराची में महावाणिज्य दूत के रूप में तैनात थे, तो उस समय हर किसी ने उनकी और उनकी पत्नी की खातिरदारी की थी।
कार्यक्रम के दौरान उन्होंने सुझाव दिया कि व्यापारियों, छात्रों और शिक्षाविदों को दोनों देशों की सरकारों को दरकिनार करते हुए भारत व पाकिस्तान के बाहर मिलना जारी रखना चाहिए।

वहीं, पाकिस्तानी अखबार द डॉन के मुताबिक, अय्यर ने कहा कि मेरे अनुभव से पाकिस्तानी ऐसे लोग हैं, जो कि दूसरे पक्ष के लिए जरूरत से ज्यादा प्रतिक्रिया देते हैं। यदि हम दोस्ती का व्यवहार रखते हैं, तो फिर वो कई ज्यादा दोस्ती रखते हैं। यही हम शत्रुतापूर्ण बर्ताव करते हैं, तो वो भी ज्यादा शत्रुतापूर्ण हो जाते हैं। इस तरह उन्होंने भारत की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की भी जमकर आलोचना की।

अय्यर की बेटी ने रखा था विरोध में उपवास

कुछ दिनों पहले मणिशंकर अय्यर की बेटी सुरन्या अय्यर से जुड़ा एक मामला भी सामने आया था। बता दें कि उन्होंने अयोध्या में निर्मित राम मंदिर के विरोध में उपवास रखने का ऐलान किया था। जिसके चलते RWA की तरफ से उन्हें नोटिस भी मिला था और साथ ही उन्हें माफी मांगने के लिए कहा गया था। लेकिन
उस समय उन्होंने ये दावा किया था कि जिस सोसाइटी की तरफ से उन्हें पत्र लिखा गया है, वह वहां नहीं रहती हैं। जानकारी दे दें कि सुरन्या ने 19 जनवरी एक सोशल मीडिया पोस्ट में भारत के मुसलमानों’ (Mani Shankar Aiyar)के समर्थन में उपवास का ऐलान किया था।

मणिशंकर ने फेस्ट में दिया था ये बयान

बता दें कि कांग्रेस के सीनियर नेता मणिशंकर अय्यर ने इससे पहले 3 फरवरी, 2024 को जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में दावा किया था कि मोदी सरकार की पाकिस्तान के साथ बात करने की हिम्मत नहीं है। उन्होंने आगे कहा था कि हम सर्जिकल स्ट्राइक तो कर सकते हैं पर टेबल पर बात बिलकुल नहीं कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:

Latest news