मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में NIA की बड़ी कार्रवाई, जबलपुर में 13 जगहों पर छापेमारी

भोपाल। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने टेरर फंडिंग मामले में बड़ी कार्रवाई की है. एनआईए ने जबलपुर जिले में एक वकील के घर और दफ्तर समेत 13 ठिकानों पर छापेमारी की है. बताया जा रहा है कि एनआईए की टीम ने शुक्रवार देर रात यह छापा मारा है. इस दौरान जांच एजेंसी ने टेरर फंडिंग से जुड़े मामले में कई लोगों को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है.

छापेमारी के वक्त पूरे इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस के जवान तैनात थे. फिलहाल एनआईए या स्थानीय पुलिस की ओर से इस छापेमारी को लेकर कोई बयान नहीं जारी किया गया है.

पुलिस छावनी में तब्दील हुआ इलाका

बताया जा रहा है कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने जबलपुर के जिस बड़ी ओमती इलाके में छापेमारी की है, वो क्षेत्र मुस्लिम बाहुल्य है. छापेमारी की शुरुआत में आसपास के लोगों ने हंगामा काफी हंगामा किया, जिसके बाद पुलिस ने पूरी मेन रोड बंद कर दी. इसके साथ ही आसपास के पूरे इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया. मिली जानकारी के मुताबिक इस छापेमारी में एनआईए की टीम में 10 से अधिक आईपीएस स्तर के अधिकारी शामिल रहे.

वकील के घर को चारों तरफ से घेरा

जानकारी के मुताबिक, जिस वकील के घर पर एनआईए की टीम ने छापेमारी की है, उसका नाम ए. उस्मानी है. एनआईए की टीम शुक्रवार दोपहर ही जबलपुर पहुंच गई थी. इसके बाद देर रात पूरी तैयारी से स्थानीय पुलिस के साथ छापेमारी की गई. वकील उस्मानी के बड़ी ओमटी स्थित घर को एनआईए की टीम ने चारों तरफ से घेर लिया, साथ ही घंटाघर और ओमटी के दोनों सिरों पर बैरिकेड्स लगा दिए गए. सड़क पर आवाजाही पूरी तरह से रोक दी गई और लोगों को घर में रहने के निर्देश दिए गए.

हाल ही में संदिग्धों को पकड़ा गया था

बता दें कि, इससे पहले हाल ही में एनआईए ने प्रदेश व्यापी कार्रवाई की थी. जांच एजेंसी ने खंडवा, सिवनी, बड़वानी और भिंड में दबिश देकर संदिग्ध गतिविधियं में शामिल कई लोगों को पकड़ा था और उनसे सघन पूछताछ की थी. इसके बाद विदेशी फंडिंग और हथियारों से जुड़े कई इनपुट जांच एजेंसी के हाथ लगे थे. बताया जा रहा है कि इसी इनपुट के आधार पर एनआईए ने शुक्रवार रात छापेमारी की.

Latest news