May 21, 2024
  • होम
  • Google Pay और PhonePe को लगा बड़ा झटका, अब नए ग्राहक नहीं जोड़ पाएंगे?

Google Pay और PhonePe को लगा बड़ा झटका, अब नए ग्राहक नहीं जोड़ पाएंगे?

नई दिल्ली: नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) ने यूपीआई ट्रांजेक्शन को लेकर नियम बनाया था, इस नियम में कहा था कि किसी भी थर्ड पार्टी पेमेंट वॉलेट की यूपीआई ट्रांजेक्शन में 30% से अधिक हिस्सेदारी नहीं होगी. इसमें ये भी कहा था कि अगर किसी भी पेमेंट वॉलेट की हिस्सेदारी 30% से अधिक होती है तो उसे कम करने का इंतजाम किया जाएगा।

यह नियम दिसंबर 2022 से लागू होने वाला था, लेकिन बाद में Google Pay और PhonePe जैसे थर्ड-पार्टी ऐप प्रोवाइडर को दो साल की मोहलत दे दी गई, जो इस साल खत्म होने वाली है. अर्थात् जिन पेमेंट ऐप की डिजिटल ट्रांजेक्शन में हिस्सेदारी 30% से अधिक है, उन्हें 1 जनवरी 2025 तक इसे कम करना होगा।

कैसे कम की जाएगी हिस्सेदारी?

Google Pay और PhonePe जैसे दो ही थर्ड पार्टी पेमेंट ऐप की यूपीआई ट्रांजेक्शन में 85% हिस्सेदारी है. वहीं इस सेगमेंट का सबसे चर्चित ऐप Paytm रहा है, लेकिन इसके बावजूद भी उसकी हिस्सेदारी बहुत कम है. ये ऐप भी इंतजार कर रहे हैं कि डिजिटल ट्रांजेक्शन में हिस्सेदारी कम करने के बारे में एनपीसीआई से किसी तरह की गाइडलाइंस आती है या नहीं. एनपीसीआई ही यूपीआई चलाता है, जिसका इस्तेमाल खरीदारी के वक्त हाथों हाथ डिजिटल पेमेंट के लिए किया जाता है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक एनपीसीआई जोखिम कम करने के लिए 30% यूपीआई मार्केट सीलिंग को लागू करने का तरीका बताया जाएगा. इसका एक उपाय यह हो सकता है कि 30% से अधिक हिस्सेदारी वाले ऐप को नए ग्राहक जोड़ने से इनकार दिया जाए. वहीं यह काम चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा ताकि यूजर्स को किसी तरह की कोई दिक्कत ना हो।

यह भी पढ़ें-

UP Board 10th Result: 10वीं में सीतापुर की प्राची निगम स्टेट टॉपर, 93.34% लड़कियां पास

IPL 2024: हैदराबाद के सामने ढेर हुई दिल्ली, हेड ने फिर से खेली ताबड़तोड़ पारी  

 

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन