May 30, 2024
  • होम
  • रक्षा मंत्रालय ने HAL को दिया 65 हजार करोड़ का टेंडर, भारत की सैन्य ताकत होगी और मजबूत

रक्षा मंत्रालय ने HAL को दिया 65 हजार करोड़ का टेंडर, भारत की सैन्य ताकत होगी और मजबूत

  • WRITTEN BY: Sajid Hussain
  • LAST UPDATED : April 12, 2024, 2:52 pm IST

नई दिल्ली: भारत की सेना की ताकत को बढ़ाने की दिशा में भारत सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। रक्षा मंत्रालय ने हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड को 65 हजार करोड़ का टेंडर जारी किया है। इसके तहत रक्षा मंत्रालय देश में बने 97 एलसीए मार्क 1A लड़ाकू विमानों की खरीद करने वाला है। यह अब तक का स्वदेशी सेना हार्डवेयर का सबसे बड़ा ऑर्डर होगा।

मिग फाइटर जेट्स की जगह लेंगे LCA मार्क 1A विमान

रक्षा मंत्रालय ने HAL को टेंडर पर जवाब देने के लिए तीन माह का वक्त दिया है। अगर यह डील हो जाती है तो भारत में बने LCA मार्क 1A फाइटर जेट्स को भारतीय वायु सेना में शामिल कर लिया जाएगा। इसकी वजह से वायुसेना के मिग-21, मिग-23 और मिग-27 जैसे फाइटर जेट्स जल्द ही वायुसेना से रिटायर हो जाएंगे। भारत में बने हथियारों को बढ़ावा देने की दिशा में अब तक का यह सबसे बड़ा कदम है। इससे रक्षा क्षेत्र से जुड़ी कंपनियों को भी फायदा मिलेगा। बता दे कि भारत सरकार लगातार HAL को बढ़ावा दे रही है, जिसकी वजह से सभी प्रकार के सैन्य हथियारों के निर्माण की डील HAL को मिल रही है।

HAL को पहले मिल चुका है 83 एलसीए मार्क 1ए का ऑर्डर

बता दें कि भारतीय वायुसेना HAL को पहले ही 83 एलसीए मार्क 1ए फाइटर विमानों का ऑर्डर दे चुकी है। इस ऑर्डर के तहत पहला फाइटर जेट कुछ ही हफ्तों में भारतीय वायुसेना को मिल जाएगा। एलसीए मार्क 1ए, तेजस एयरक्राफ्ट का मॅाडर्न वर्जन है।

यह भी पढ़े-

Lok Sabha Election 2024: तीसरे चरण के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू, 7 मई को होगी वोटिंग

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन