Bullet train: बुलेट ट्रेन का पहला सेक्सन 2026 तक होगा तैयार, रेल मंत्री ने दी काम की जानकारी

नई दिल्लीः भारत में पहला बुलेट ट्रेन सेक्शन गुजरात में बिलिमोरा और सूरत के बीच अगस्त 2026 तक पूरा हो जाएगा। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बुधवार को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर इसकी पुष्टी की। अश्विनी वैष्णव ने बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट की झलक दिखाने वाला एक वीडियो भी शेयर किया है। उन्होंने कहा कि 21 नवंबर तक इस बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के 251.40 किलोमीटर में पिलर बनाए जा चुके हैं। 103.24 किलोमीटर में सुपर स्ट्रक्चर भी बनकर तैयार है। बता दें कि यह सेक्शन 50 किलोमीटर का है।

कवच सिस्टम के बारे में भी बताया

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कवच सिस्टम के बारे में भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अभी हर साल 1500 किमी का कवच नेटवर्क है। वहीं 2014 से हर साल 2500 किमी का कवच नेटवर्क होगा। बता दे कि कवच टेकनीक का काम 2016 में अप्रूव हुआ था। यह ट्रैक पर ट्रेन के टकराव से बचाने के लिए एक स्वदेशी रूप से विकसित वॉर्निंग सिस्टम है। यह इस साल जून में ओडिशा के बालासोर में हुए भयानक रेल हादसे के बाद चर्चाओं में आई थी। इस हादसे में लगभग 300 लोग मारे गए थे।

गजराज सिस्टम पर भी काम जारी

अश्विनी वैष्णव ने कहा कि इस टेकनीक से हाथियों और ट्रेनों के बीच टकराव को रोकने में भी मदद मिलेगी। देश के विभिन्न हिस्सों को बेहतर ढंग से जोड़ने और ज्यादा ट्रैक बनाने के लिए ‘गजराज सिस्टम’ पर तेजी से काम जारी है। पूरे 700 किमी का काम लगभग 7 महीने में पूरा हो जाएगा। उन्होंने बताया कि पिछले साल 2022 में 5243 किमी नए ट्रैक का जाल बिछाया गया था। इस साल 5500-6000 किलोमीटर का ट्रैक बिछाने का लक्ष्य रखा गया है।

Latest news