March 1, 2024
  • होम
  • तीन कृषि कानून के बाद अब अग्निपथ योजना के खिलाफ आंदोलन करेगा संयुक्त किसान मोर्चा! जानिए टिकैत ने क्या कहा

तीन कृषि कानून के बाद अब अग्निपथ योजना के खिलाफ आंदोलन करेगा संयुक्त किसान मोर्चा! जानिए टिकैत ने क्या कहा

  • WRITTEN BY: Vaibhav Mishra
  • LAST UPDATED : August 7, 2022, 2:00 pm IST

अग्निपथ योजना:

नई दिल्ली। केंद्र सरकार की ओर से लाई गई सेना में नई भर्ती योजना अग्निपथ के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा और यूनाइटेड फ्रंट ऑफ एक्स सर्विसमैन आज से देशव्यापी अभियान शुरू करेगा। योजना के विरोध में ये अभियान 7 अगस्त से 14 अगस्त तक चलेगा।

बेरोजगारों से मिलाया हाथ

अग्निपथ योजना के विरोध में शुरू किए गए इस अभियान को लेकर किसान संगठन और पूर्व सैनिको के फ्रंट ने बेरोजगार युवकों से हाथ मिला लिया है। उन्होंने इस योजना को राष्ट्रीय सुरक्षा, भारतीय सेना और किसान परिवारों के लिए विनाशकारी बताया है। किसान संगठन और पूर्व सैनिकों के मोर्चे का कहना है कि जब तक सरकार इस योजना को वापस नहीं लेगी, ये अभियान जारी रहेगा।

पहले से आंदोलन का अनुभव

बता दें कि संयुक्त किसान मोर्चा कई किसान संगठनों का समूह है। जिनके एक साल से ज्यादा लंबे चले आंदोलन के कारण ही केंद्र सरकार को तीन कृषि कानून को वापस लेना पड़ा था। दूसरी तरफ पूर्व सैनिकों के मोर्चे यूनाइटेड फ्रंट ऑफ एक्स सर्विसमैन ने वन रैंक वन पेंशन के लिए लगातार 2600 दिनों तक संघर्ष किया था।

प्रेस वार्ता में दी जानकारी

अग्निपथ योजना के खिलाफ अभियान को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा और यूनाइटेड फ्रंट ऑफ एक्स सर्विसमैन ने प्रेस वार्ता की। जिसमें बताया गया कि 7 अगस्त से 14 अगस्त तक चुने गए स्थानों पर जय जवान जय किसान सम्मेलन आयोजित कर इस अभियान को चलाया जाएगा। इस प्रेस वार्ता को भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत और उनके साथियों ने संबोधित किया।

अग्निपथ योजना क्या है?

गौरतलब है कि भारत की जल, थल और वायुसेना में चार साल की भर्ती के लिए अग्निपथ योजना का लाया गया है। इस योजना के तहत हर साल लगभग 40 से 45 हजार युवाओं को सेना में भर्ती होने का मौका मिलेगा। भर्ती किए गए रंगरूटों को अग्निवीर कहा जाएगा। इस योजना की घोषणा के बाद से पूरे देश में इसका व्यापक विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गया। देश के कई हिस्सो में बीते दिनों हिंसक प्रदर्शन भी हुए।

Vice President Election 2022: जगदीप धनखड़ बनेंगे देश के अगले उपराष्ट्रपति? जानिए क्या कहते हैं सियासी समीकरण

Tags