June 21, 2024
  • होम
  • World's Strange Things: दुनिया के वो अजीब देश जहां के नियम-कानून जानकर आप हो जाएंगे हैरान

World's Strange Things: दुनिया के वो अजीब देश जहां के नियम-कानून जानकर आप हो जाएंगे हैरान

  • WRITTEN BY: Nidhi Kushwaha
  • LAST UPDATED : March 20, 2024, 9:11 pm IST

नई दिल्ली। दुनिया में बहुत सारे देश हैं, हर देश के अपने अलग नियम और कानून भी हैं। ऐसे में कई नियम और कानून तो ऐसे होते हैं जिन्हें सुनकर आप भी एक बार सोचने पर मजबूर हो जाएंगे कि क्या सच में ऐसा भी होता है? भले ही नियम उन देशों के लिए तो आम होते हैं लेकिन, दूसरे देशों में इन्हें अजीबोगरीब समझा जाता है। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ देशों के बारे में जहां के अजीबोगरीब नियम आपको हैरान कर देंगे।

हमारे देश भारत सहित कई अन्य देश हैं जहां लोगों की शादियां 30-35 साल की उम्र या उससे भी अधिक उम्र में होती हैं और इसे सामान्य दृष्टि से देखा जाता है। लेकिन डेनमार्क एक ऐसा देश है, जहां 25 साल की उम्र में अविवाहित होने पर लोग उस इंसान पर दालचीनी डालना शुरू कर देते हैं। यानी कि अगर किसी व्यक्ति की 25 साल की उम्र तक शादी नहीं होती है तो डेनमार्क के लोग उस शख्स को दालचीनी से नहला देते हैं। हालांकि, आजकल बहुत कम लोग ऐसा करते हैं और इसे सिर्फ प्रैंक के तौर पर किया जाता है।

बच्चे के पैदा होने पर भारत सहित कई देशों के घरों में कई कार्यक्रम संपन्न कराए जाते हैं। लेकिन स्पेन में एक बेहद अजीबोगरीब नियम है, जहां पुरुष नवजात शिशुओं के ऊपर कूदते हैं। यहां हर साल इसे एल कोलाचो (El Colacho Festival) नाम के त्योहार के रूप में मनाया जाता है। इसे बेबी जंपिंग या डेविल जंपिंग फेस्टिवल (Baby jumping or Devil jumping festival) भी कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि यह उत्सव नवजात शिशुओं को उनके वास्तविक पाप से मुक्त करता है। करीब 400 साल पुरानी इस परंपरा के अनुसार, हाल ही में जन्में बच्चों को उनकी मां सड़क पर बिछे बिस्तरों पर लिटा देती हैं और इसके बाद लोग इन बच्चों के ऊपर कूदते हुए जाते हैं।

दुनिया में कौन नहीं चाहता कि उसके दांत एकदम सफेद और चमचमाते हुए हों। इसके लिए हम बढ़िया से बढ़िया टूथपेस्ट भी खरीदते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि दुनिया एक जगह ऐसी भी है जहां दांतों को सफेद नहीं बल्कि काला किया जाता है। जी हां, जापान में एक ऐसा रिवाज है जिसमें कुछ लोग अपने दांतों को काला करते हैं। हालांकि समय के साथ ये प्रथा अब विलुप्त हो रही है लेकिन जापान के साथ चीन, थाईलैंड, फिलिपिंस, वियतनाम आदि जगहों पर भी ऐसी प्रथा रही है। जिसे ‘ओहागूरो मान्यता’ के नाम से जाना जाता था।

हमारे यहां जब भी कोई दुख का माहौल होता है तो लोग अपने सगे संबंधियों के साथ इन्हें बांटते हैं। लेकिन जापान दुनिया का इकलौता ऐसा देश है, जहां आंसू पोंछने के लिए भी लोग रेंट पर मिलते हैं। यही नहीं यहां आंसू पोंछने के लिए हैंडसम लोगों को रेंट पर लिया जा सकता है। हालांकि, जापान के हर घर में लोग ऐसा नहीं करते। ऐसा सिर्फ जापान की एक कंपनी द्वारा किया जाता है।

भारत के अलावा कई देश हैं जहां सामान्य रूप से कई रंगों की स्याहियों का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन दक्षिण कोरिया एक ऐसा देश है, जहां लाल स्याही से लिखना अपशगुन माना जाता है। दरअसल, यहां ऐसा माना जाता है कि अगर क‍िसी ने लाल पेन से क‍िसी का नाम ल‍िख दिया तो उसकी मौत हो जाती है। इसी वजह से यहां के लोग लाल पेन का इस्तेमाल नहीं करते हैं। यही नहीं, यहां पर लाल पेन घर पर भी लेकर नहीं आते हैं।

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन