NEET UG 2024: NEET परीक्षा 2024 के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू, NTA ने किए बड़े बदलाव

नई दिल्ली। नीट परीक्षा 2024 (NEET UG 2024) के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुके हैं। बता दें कि एनटीए ने एप्लीकेशन लिंक खोल दिया है। ऐसे में वे कैंडिडेट्स जो इस साल की परीक्षा के लिए आवेदन करना चाहते हैं वो नीट यूजी की ऑफिशियल साइट neetonline.in. पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं। एनटीए ने इस बार नीट 2024 के लिए नई वेबसाइट लॉन्च की है। कैंडिडेट्स इस साल का इंफॉर्मेशन बुलेटिन, सिलेबस, एप्लीकेशन लिंक वगैरह इस लिंक पर जाकर देख सकेंगे। साथ ही आगे के अपडेट भी ले सकते हैं।

साथ ही बता दें कि इस बार एजेंसी की तरफ से परीक्षा में कई बड़े बदलाव किए गए हैं। दरअसल, इसमें नतीजों की गणना में आयु को महत्व न देने से लेकर टाई-ब्रेकिंग तक के नियमों में बदलाव किया गया है। आइए जानते हैं इन चेंजेस के बारे में और ये भी कि इससे लाखों उम्मीदवारों के लिए क्या बदलेगा?

जानें क्या है नया टाई-ब्रेकिंग क्राइटेरिया?

इस समय नीट यूजी(NEET UG 2024) के लिए रिजल्ट के जो नियम बदले गए हैं उसके अनुसार, जिन कैंडिडेट्स के बायोलॉजी यानी बॉटनी और जुलॉजी में ज्यादा नंबर होंगे, उन्हें पहली वरीयता दी जाएगी। इसके बाद जिनके केमिस्ट्री में ज्याद अंक होंगे, उन्हें वरीयता मिलेगी। इसके बाद तीसरे नंबर पर फिजिक्स के मार्क्स काउंट होंगे और चौथे नंबर पर कंप्यूटर से ड्रॉ निकलेगा।

अन्य बदलाव

टाई-ब्रेकिंग क्राइटेरिया के अलावा कुछ अन्य बदलाव भी किए गए हैं। जिसमें एग्जाम सेंटर्स की संख्या में बढ़ोत्तरी की गई है, जहां पिछली बार 499 सेंटर थे इस बार उन्हें बढ़ाकर 554 कर दिया जाएगा। इस बार देश के बाहर कोई भी सेंटर नहीं बनाया जाएगा। यही नहीं, इस बार नीट के सिलेबस में भी बदलाव किया गया है। एनसीईआरटी ने क्लास 11वीं और 12वीं के सिलेबस में जो बदलाव किया है, ये उसके हिसाब से है। ऐसे में उम्मीदवारों से ये अनुरोध है कि लेटेस्ट सिलेबस देखने और जानकारी के लिए वे ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट करें।

ये भी पढ़ें- 12 फरवरी को घोषित किए जाएंगे जेईई मेन परीक्षा 2024 के स्कोरकार्ड

Latest news