लंदन. WikiLeaks Founder Julian Assange Dieing, ब्रिटेन की जेल में 50 हफ्तों की सजा काट करे विकीलीक्स के संस्थापक जुलियन असांजे का स्वास्थ्य बहुत खराब है. जूलियन असांजे के हेल्थ को लेकर 60 से अधिक डॉक्टर्स ने खुला खत लिखा है. इन डॉक्टर्स का कहना है कि जूलियन असांजे (48) का स्वास्थ्य इतना खराब है कि उनकी किसी भी समय मौत हो सकती है. डॉक्टर्स ने गृह सचिव प्रीति पटेल को लिखे पत्र में कहा है कि असांजे को दक्षिण पूर्व लंदन की बेल्मश जेल से हटाकर इलाज के लिए विश्वविद्यालय टीचिंग हॉस्पिटल ले जाने के लिए कहा है.

जासूसी के आरोप में अमेरिका जूलियन असांजे को ब्रिटेन से प्रत्यर्ण करना चाहता है. वहीं असांजे इसके खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं. अमेरिका ने उनपर जासूसी के आरोप लगाए हैं. अगर अमेरिका द्वारा लगाए गए आरोप सही साबित होतें तो अमेरिका में उन्हें 175 साल जेल की सजा काटनी होगी.

16 पेज की रिपोर्ट में डॉक्टर्स ने लिखा कि असांजे की शारीरिक और मानसिक हालत बहुत खराब है. उन्हें तुरंत शारीरिक और मनोवैज्ञानिक सहायता की जरूरत है. उनका इलाज किसी बेहतर उपकरण वाले हॉस्पिटल में हो सकता है. डॉक्टर्स ने आगे लिखा अगर उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती नहीं कराया गया तो उनकी किसी भी वक्त मौत हो सकती है. जूलियन असांजे को पत्र लिखने वाले में इटली, जर्मनी, श्रीलंका, पोलैंड ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका के डॉक्टर शामिल हैं.

इन डॉक्टर्स ने प्रत्यदर्शियों के बयानों और यूनाइटेड नेशन्स की ओर से नियुक्त किए गए विशेष रिपोर्टर नील्स मेल्जर की रिपोर्ट को आधार बनाकर ये खत लिखा है. 21 नवंबर 2019 को जूलियन असांजे को लेकर चश्मदीदों ने बयान दिए थे. जबकि 1 नवंबर को सयुंक्त राष्ट्र मानवाधिकार के विशेषज्ञ नील्स मेल्जर ने कोर्ट में अपना बयान दिया. मेल्जर का कहना था कि ब्रिटेन की बेल्शर जेल में बंद असांजे को लगातार प्रताड़ित किया जा रहा है. इसकी कीमत उन्हें अपनी जिंदगी देकर चुकानाी पड़ सकती है.

साल 2010 में जूलियन असांजे ने विकीलीक्स के जरिए अमेरिकी सेना और डिप्लोमैटिक फाइलों को सार्वजनिक किया था जिसके बाद हड़कंप मच गया. इसमें उन्होंने अफगानिस्तान और इराक में बमबारी का खुलाश किया जिसके बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अमेरिका की खासी आलोचना हुई थी.

विकीलीक्स के खुलासे के बाद अमेरिका जुलियन असांजे के पीछे पड़ गया. असांजे को अपनी जान का खतरा था.इसलिए उन्होंने काफी वक्त स्वीडन में राजनीतिक शरण लेकर बिताया. बाद में स्वीडन ने ब्रिटेन को प्रत्यर्पण कर दिया. जिसके बाद से वह ब्रिटेन की बेल्मश जेल में बंद हैं. करीब 6 महीने पहले जब वह सुनवाई के दौरान कोर्ट पहुंचे तो काफी कमजोर दिखाई दे रहे थे . इस दौरान उन्हें दिन और तारीख याद करने में दिक्कत आ रही थी.

Also Read:

Julian Assange WikiLeaks Full Timeline Story: जानिए विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांज के हैकर से लेकर लंदन में गिरफ्तारी तक का पूरा सफर

Who is Julian Assange: आखिर कौन है जूलियन असांज और क्या है विकीलीक्‍स, यहां जानें

Julian Assange Wikileaks Arrested: विकिलीक्‍स के संस्थापक जूलियन असांज लंदन में गिरफ्तार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App