न्यूयॉर्क: अमेरिका का अगला राष्ट्रपति कौन बनने जा रहा है इस बारे में सस्पेंस कायम है क्योंकि अमेरिकी चुनाव काफी दिलचस्प मोड़ पर पहुंच गया है. शुरूआती रूझानों में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन आगे चल रहे हैं लेकिन डोनाल्ड ट्रंप अपनी जीत का दावा कर रहे हैं. कुल मिलाकर आखिरी परिणाम में अभी काफी पेचीदगियां नजर आ रहे हैं. जानकार मान रहे हैं कि राष्ट्रपति चुनाव अब अदालत और सीनेट के हवाले होने जा रहा है क्योंकि दोनों उम्मीदवारों ने अगर मौजूदा नतीजे मानने से इनकार कर दिया तो अमेरिकी इतिहास में ऐसा पहली बार होगा क्योंकि ऐसी स्थिति पहले कभी देखने को नहीं मिली. ताजा स्थिति ये है कि जो बाइडन 238 इलेक्टोरल वोट पा चुके हैं जबकि ट्रंप के खाते में 213 वोट हैं. हालांकि ये आंकड़े किसी भी समय बदल सकते हैं क्योंकि दोनों ही नेता 270 के जादुई आंकड़े से दूर हैं.

टाई हुआ तो कौन होगा अमेरिकी राष्ट्रपति?

अमेरिकी इतिहास में ऐसा हुआ तो नहीं है लेकिन अगर ऐसा होता हे कि दोनों नेताओं को 269 इलेक्टोरल वोट मिलते हैं तो मामला टाई हो सकता है और फिर अंतिम फैसला सीनेट के पास जाएगा. मामला कोर्ट भी जा सकता है. अगर मामला सीनेट के पास गया तो हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव पहले उपराष्ट्रपति पद का चुना करेंगे और फिर वोटिंग के जरिए अमेरिकी राष्ट्रपति को चुना जाएगा. लेकिन ये प्रक्रिया लंबी है जिसमें काफी समय लग सकता है.

अमेरिकी चुनाव प्रक्रिया के मुताबिक अमेरिकी जनता इलेक्टर्स चुनते हैं और फिर इलेक्टर्स राष्ट्रपति का चुनाव करते हैं. अमेरिकी सीनेट में वोटिंग के लिए 14 दिसंबर की तारीख तय की गई है जहां 538 इलेक्टर्स मिलकर नए राष्ट्रपति का चुना करेंगे. दोनों नेताओं को बहुमत साबित करने के लिए 270 का आंकड़ा छूना होगा.

अमेरिकी चुनाव में आखिरी कैसे बनी ये स्थिति?

दरअसल इस स्थिति की वजह ये है कि कोरोना के चलते करीब दस करोड़ वोट मेल-इन के जरिए डाले गए हैं यानी वोटिंग डे से पहले ही दस करोड़ से ज्यादा वोट पड़ चुके थे. करीब 16 करोड़ लोगों ने वोटिंग के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया जिनमें से 10 करोड़ के करीब वोट वोटिंग से पहले ही पड़ गए. अमेरिकी मीडिया की रिपोर्ट कहती है कि कुछ राज्य सिर्फ उन वोटों को गिन रहा है जो 3 नवंबर को डाले गए यानी मेल इन वोट अभी तक खोले नहीं गए हैं. इन वोटों की गिनती में कई दिनों का समय लग सकता है.

कोर्ट में होगा अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव का फैसला?

वोटों की गिनती से लेकर चुनाव के नतीजे सभी पर विवाद खड़ा हो रहा है. मौजूदा राष्ट्रपति ट्रंप का कहना है कि कुछ राज्यों में वोटों की गिनती गलत हो रही है जिसे वो सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देंगे वहीं जबाव में जो बाइडन टीम का कहना है कि उनकी लीगल टीम पूरी तरह तैयार है और उन्हें अदालती लड़ाई मंजूर है. अगर मामला कोर्ट गया तो नतीजों में काफी समय लग सकता है.

Donald Trump Covid Positive: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलानिया कोरोना पॉजिटिव

Non-Gandhi Congress President: गैर-गांधी को बनना चाहिए कांग्रेस अध्यक्ष, नई किताब में प्रियंका गांधी ने किया राहुल का समर्थन

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर