नई दिल्ली : चीन की अनपू इलेक्ट्रिक साइंस एंड टेक्नोलॉजी कंपनी ने अपने कर्मचारियों के लिए एक ऐसी सख्त पॉलिसी बनाई हुई है जिसे सुनकर आप सभी हैरान हो जाओगे. ये कंपनी अपने कर्मचारियों को एक दिन में सिर्फ एक बार टॉयलेट जाने देती है, अगर किसी कर्मचारी को दोबारा टॉयलेट जाना है तो उसे जुर्माना देना पड़ता है.

दरअसल, अब तक हमने चीन की तानाशाही के बारे में सुना था, लेकिन चीन की इस तानाशाही कंपनी अनपू इलेक्ट्रिक साइंस एंड टेक्नोलॉजी के बारे में भी जान लीजिए. जो गुआंगडॉग राज्य के डॉन्ग गुआंग में स्थित है. इस कंपनी की यह टॉयलेट ब्रेक पॉलिसी अब सोशल मीडिया पर खूब सुर्खियां बटोर रही है. जो सभी का ध्यान अपनी ओर खींच रही है.

वहीं, कंपनी ने इस बात को स्वीकार कर लिया है कि उन्होंने अपने कर्मचारियों के लिए एक दिन में एक टॉयलेट ब्रेक की पॉलिसी को अपनाया है और अगर कोई कर्मचारी एक बार से ज्यादा टॉयलेट जाता है तो उसे प्रत्येक बार 20 युआन यानी 3 डॉलर (220 रुपये) फाइन के तौर पर चुकाने पड़ेंगे. कंपनी ने ये कदम उन आलसी कर्मचारियों की वजह से उठाया है जो काम से बचने के लिए कई बार टॉयलेट ब्रेक लेते थे.

इस टॉयलेट ब्रेक की पॉलिसी पर कंपनी का कहना है कि हम ऐसा करने के लिए मजबूर हैं क्योंकि कंपनी के कर्मचारी बेहद आलसी होते जा रहे हैं. वो अपने काम से बचते रहते हैं. जिसके चलते कंपनी को हर माह खासा नुकसान उठाना पड़ता है. इस विषय पर कंपनी ने कर्मचारियों से भी इस बारे में कई बार बात की है मगर उन्हें कोई सकारात्मक बदलाव देखने को नहीं मिला. इसलिए कंपनी के प्रवक्ता ने बताया कि लोगों को नौकरी से निकालने से बेहतर विकल्प है कि उनसे जुर्माना लिया जाए. हालांकि कर्मचारियों से एक बार से ज्यादा टॉयलेट जाने पर उनसे जुर्माना उसी वक्त चुकाने के लिए नहीं कहा जाता है बल्कि वो उनके मासिक बोनस से काटा जाता है.

Pfizer Vaccine Side effects : कोरोना वैक्सीन पर उठे सवाल, मैक्सिको में पीफाइजर वैक्सीन लगने के बाद महिला डॉक्टर को मारा लकवा

Bird Flu in India:देश में फैला नया एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस, चिकन और अंडा खाने वाले रहें सावधान

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर