नई दिल्ली. टिकटॉक ने एक 17 साल की अमेरिकी लड़की के अकाउंट को फिर से चालू कर दिया है. फिरोजा अजीज नाम की इस लड़की ने सोशल मीडिया ऐप पर फनी पॉलिटिकल वीडियो पोस्ट किया था. इस वीडियो में फिरोजा ने चीन के कैंप में बंद उइगर मुसलमानों की हालत पर राजनीतिक टिप्पणी करते हुए व्यंग्य किया था. जिसके बाद कंपनी ने एक्शन लेते हुए फिरोजा का टिकटॉक अकाउंट ब्लॉक कर दिया था. अब टिकटॉक ने सार्वजनिक तौर पर अपनी गलती स्वीकार की है और फिरोजा का अकाउंट फिर से चालू कर दिया है. साथ ही कंपनी की ओर से अकाउंट ब्लॉक करने के लिए माफी भी मांगी गई है.

चाइनीज सोशल मीडिया ऐप टिकटॉक की ओर से बयान में कहा गया है कि कंपनी की कम्यूनिटी गाइडलाइन में कहीं भी ऐसे वीडियोज को बंद करने की बात नहीं कही गई है. साफ है कि कंपनी को इस वीडियो को नहीं हटाना चाहिए था और यूजर का अकाउंट ब्लॉक नहीं करना चाहिए था.

टिकटॉक का कहना है कि फिरोजा का वीडियो बैन होना मानवीय भूल है. चीन में जो कम्यूनिटी गाइडलाइन लागू है वह दूसरे देशों में लागू नहीं होनी चाहिए. सभी देशों की कम्यूनिटी गाइडलाइन अलग-अलग है.

क्या है पूरा मामला-
फिरोजा अजीज अमेरिका की रहने वाली हैं. पिछले हफ्ते फिरोजा अजीज ने अपनी प्रोफाइल पर एक वीडियो पोस्ट किया था जिसमें उन्होंने उइगर मुसलमानों के हितों की रक्षा की बात की और उनके मुद्दों को लोगों के सामने रखा. उइगर  मुस्लिम समुदाय चीनी सरकार के खिलाफ लंबे समय से आवाज उठा रहा है और उन पर प्रताड़ित किए जाने के आरोप लगा रहा है. उसके बाद यह वीडियो टिकटॉक अकाउंट अस्थायी रूप से बैन कर दिया गया.

टिकटॉक के वीडियो हटाने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा. इस मामले पर काफी विवाद हुआ. टिकटॉक का मालिकाना हक चीन की कंपनी बाइट डांस के पास है. ऐसे में कंपनी पर आरोप लगे कि टिकटॉक चीन के फेवर में काम कर रही है और अन्य देशों में लोगों की आवाज को दबा रही है.

हालांकि अब टिकटॉक ने अपनी गलती को स्वीकार कर लिया है और सार्वजनिक रूप से माफी भी मांगी है. साथ ही फिरोजा अजीज का टिकटॉक अकाउंट भी फिर से बहाल कर दिया गया है.

Also Read ये भी पढ़ें-

टिकटॉक ने लॉन्च किया स्मार्टफोन, जानें फीचर्स, स्पेसिफिकेशन्स और कीमत

फेसबुक ने माना 100 डेवलपर्स ने अनुचित तरीके से उपयोगकर्ता डेटा प्राप्त किया, डेटा के दुरुपयोग से किया इनकार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App