जाफाना: देश को तंबाकू मुक्त बनाने के प्रयास में श्रीलंका सरकार ने 100 से ज्यादा शहरों में सिगरेट की बिक्री पर रोक लगा दी है. श्रीलंका के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि पब्लिक हेल्थ इंस्पेक्टर्स यूनियन ने देश भर में लोगों को तंबाकू से होने वाले दुष्प्रभाव से लोगों को शिक्षित करने के लिए जागरुकता कार्यक्रम शुरू किए हैं. इसका परिणाम यह हुआ है कि कई शहरों के दुकानदारों और व्यापारियों ने सिगरेट बेचना बंद कर दिया है.

श्रीलंका के जाफाना के 22 शहर, मतारा के 17 शहर, कुरुनेगला के 16 शहरों के साथ कई दूसरे शहरों के व्यापारियों ने भी सिगरेट की बिक्री का बहिष्कार किया है. कुल 107 शहर देश को तंबाकू मुक्त बनाने की पहल में अपना योगदान दे रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय राजिता सेनारत्ने ने कहा कि ये आंकड़े 2019 में 200 तक पहुंचने की उम्मीद है. आपको बता दें कि श्रीलंका सरकार ने हाल ही में तंबाकू की रोकथाम के लिए कई कदम उठाए हैं. जिसमें तंबाकू 90 फीसदी टैक्स बढ़ाना, सिगरेट के पैकेट पर चेतावनी तस्वीर का भाग बढ़ाना और स्कूल के 100 मीटर के दायरे में सिगरेट की बिक्री पर रोक जैसे कदम शामिल हैं.

अब श्रीलंका सरकार 2020 तक तंबाकू की खेती पर भी रोक लगाने को लेकर विचार-विमर्श कर रही है. बता दें कि श्रीलंका सरकार ने देश में तंबाकू की रोकथाम के लिए कई प्रभावी कदम उठाए हैं. जिसके चलते देश के 100 से ज्यादा शहरों के दुकानदारों और व्यापारियों ने सिगरेट की बिक्री का बहिष्कार किया है. इस मुहिम में अभी 107 देशों ने सिगरेट बिक्री का बहिष्कार किया है जो आगे और बढ़ने की संभावना है.

यह भी पढ़ें-एनजीटी ने पूछा- सिगरेट के पैकेट पर चेतावनी निशान तो नहाने-पीने के लिए मैली गंगा को लेकर खतरे की चेतावनी क्यों नहीं ?

चीनी मीडिया का दावा: चीन में छप रहे भारत के करेंसी नोट, आरबीआई ने बताया झूठ

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App