एम्सटर्डमः नीदलैंड की यात्रा पर गए बौद्ध धर्मगुरु दलाई लामा ने बाल यौन शोषण के मामले पर बात करते हुुए कहा कि इस अपराध में कई बौद्धक शिक्षक शामिल हैं ये बात मुझे आज से नहीं बल्कि साल 1990 से पता है. इससे पहले दलाई लामा ने बौद्ध शिक्षकों का शिकार हुए बच्चों से मुलाकात की थी. दलाई लामा आजकल चार दिवसीय नीदरलैंड की यात्रा पर हैं. उन्होंने ने कहा कि मुझे पहले इन अपराधों के बारे में जानकारी है, यह कुछ नया नहीं पिछले कई सालों से मेरे सामने ऐसी घटनाएं आती रही हैं.

दलाई लामा ने इस मामले पर बात करते हुए कहा कि मैं पहले से इन चीजों को जानता हूं, कुछ नया नहीं है. 25 साल पहले ही किसी ने यौन शोषण के आरोपों का जिक्र किया था. जो लोग यौन शोषण करते हैं वह बुद्ध का परवाह नहीं करते नहीं उन्हें उनकी शिक्षाओं की कोई फिक्र रहती है. फिलहाल जो बाते सामने आई हैं वह उनके लिए शर्मिंदगी की बात है. वहीं यूरोप में लामा के प्रतिनिधि सम्दुप का कहना है कि दलाई लामा ने हमेशा ऐसे गैर जिम्मेदार व्यवहार की निंदा की है. 

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले बौद्ध शिक्षकों पर मठों में रहने वाले बच्चों से यौन शोषण के आरोप लगे थे. जिसके बाद इस पर बवाल भी हुआ था. इस मसले पर अब बौद्ध धर्मगुरु दलाई लामा का भी बयान आया है. उनका कहना है कि उन्हें पिछले 25 सालों से ऐसे कुकृत्यों की जानकारी है. 

यह भी पढ़ें- दलाई लामा बोले- अगर जिन्ना होते प्रधानमंत्री तो नहीं होता भारत और पाकिस्तान का बंटवारा

पीएम मोदी और शी जिनपिंग की मुलाकात से पहले बोले दलाई लामा, मिलकर काम करना ही फायदेमंद

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App