Party in Lockdown:लॉकडाउन के दौरान यूरोपियन सांसद जोसेफ जाजेर सेक्स पार्टी करते हुए पकड़े गए हैं. गाइडलाइन्स का उल्लंघन करने की वजह से पुलिस ने इस पार्टी में छापा मारा जहां पुलिस ने जोसेफ समेत 20 से अधिक लोगों को अरेस्ट किया. इस बीच यूरोपियन सांसद जोसेफ जाजेर ने निजी कारणों का हवाला देते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया है

नई दिल्ली : कोरोना महामारी के लागू लॉकडाउन के दौरान हंगरी के यूरोपियन सांसद जोसेफ जाजेर पार्टी करते हुए पकड़े गए हैं. इस घटना के बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. द टाइम्स यूके की रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना गाइडलाइन्स का उल्लंघन करने की वजह से पुलिस ने बेल्जियम की राजधानी ब्रुसेल्स में हो रही इस पार्टी में छापा मारा था. जिस दौरान जोसेफ वहां पाए गए. वहीं अब इस घटना के बाद सांसद जोसेफ जाजेर ने पर्सनल कारणों का हवाला देते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. इस बीच अपने पद से इस्तीफा देना जोसेफ जाजेर पर कई सवाल भी खड़े करता है. हालांकि अभी तक किसी पुख्ता बयान की पुष्टि नहीं हो पाई है.

बता दें कि 59 साल के जोसेफ हंगरी के प्रधानमंत्री विक्टर ओर्बन की दक्षिणपंथी Fidesz पार्टी के फाउंडिंग मेंबर हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, जब पुलिस उस पार्टी में छापा मारने पहंची तो जोसेफ ने फर्स्ट फ्लोर की खिड़की से कूदकर भागने की कोशिश की जिसके चलते वो चोट खा बैठे थे. रिपोर्ट के मुताबिक, बेल्जियम की राजधानी ब्रुसेल्स के सिटी सेंटर में चल रही इस पार्टी में 20 से अधिक लोगों को अरेस्ट किया गया है जिनमें कुछ यूरोपियन डिप्लोमेट्स भी थे और सब पर लगभग 23 हजार का जुर्माना लगाया गया है.

रिपोर्ट्स के अनुसार, जाजेर ने इस पार्टी में किसी भी तरह के ड्रग्स लेने से मना किया है और उन्होंने दावा किया कि वे किसी भी तरह की सेक्शुएल गतिविधि में शामिल नहीं थे और सिर्फ एक हाउस पार्टी में शामिल होने गए थे. हालांकि उन्होंने अपने परिवार से कोरोना की गाइडलाइन्स को तोड़ने के लिए माफी मांगी है.

जाजेर ने अपनी सफाई में कहा कि पुलिस ने मेरी आईडी के लिए पूछा लेकिन मेरे पास उस समय कोई आईडी नहीं थी तो मैंने उन्हें बताया कि मैं मेंबर ऑफ पार्लियामेंट हूं. पुलिस ने मुझे एक आधिकारिक चेतावनी दी और आखिरकार मुझे घर जाने दिया. मैं कोरोना की गाइडलाइन्स तोड़ने के लिए शर्मिंदा हूं. ये मेरी गैर जिम्मेदारी थी और मैं सजा भुगतने के लिए तैयार हूं. वहीं अब निजी कारणों का हवाला देते हुए 31 दिसंबर को उन्होंने मेंबर ऑफ पार्लियामेंट से इस्तीफा दे दिया है. बता दें कि जाजेर साल 1990 से 2002 के बीच हंगरी की संसद में चार बाद चुने गए हैं और वे साल 2004 से चार बार यूरोप की संसद के लिए भी चुने जा चुके हैं.

Covid Vaccine of india: भारत में कब आएगी कोरोना की वैक्सीन, जानिए कोवीशील्ड, फाइजर व मॉडर्ना वैक्सीन का ट्रायल कहां तक पहुंचा?

NDA victory celebration: पीएम नरेंद्र मोदी बोले- देश की माताएं-बहनें भाजपा की साइलेंट वोटर

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर