Monday, October 3, 2022

रूस : अमेरिका और पश्चिमी देशों की वजह लंबा खींच रहा युद्ध

नई दिल्ली, रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे इस युद्ध को अब कुल दो महीने होने जा रहे हैं. लेकिन ये तकरार कहीं ख़त्म होती नज़र नहीं आ रही है. अब रूस ने यूक्रेन पर छेड़े गए उसके ऑपरेशन के लंबा खींचने के लिए अमेरिका समेत पश्चिमी देशों को ज़िम्मेदार ठहराया है.

क्या बोला रूस?

रूस ने यूक्रेन में अपना मिलिट्री ऑपरेशन लम्बा खींचने के लिए अब अमेरिकी देशों समेत पश्चिमी देशों को इसका ज़िम्मेवार ठहराया है. रूस के हवाले से ये बयान रूस के रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु ने दी है. शोइगु ने दवा किया है कि पश्चिमी देशों समेत अमेरिका द्वारा उनका यूक्रेन पर चलाया जा रहा ‘मिलिट्री ऑपरेशन’ लम्बा खींचने का प्रयास किया जा रहा है. उन्होंने कहा, अमेरिका और पश्चिमी देश इस ऑपरेशन को लंबा खींचने के लिए सब कुछ कर रहे हैं.

विदेशी सप्लाई के हवाले से कही ये बात

रूस के रक्षा मंत्री ने आगे कहा, कि यूक्रेन में विदेशी देशों द्वारा करवाई जा रही हथियारों की सप्लाई से ये साफ़ है कि अमेरिका और पश्चिमी देशों का इरादा यूक्रेन को आखरी दम तक लड़वाने का है. उन्होंने आगे जानकारी देते हुए बताया कि रूसी सेना दोनेस्त्क और लुहान्स्क को आज़ाद करवाने के लिए एक के बाद एक व्यवस्थित ढंग से कदम उठा रही है. रूस के रक्षा मंत्री द्वारा दिए गए इस बयान का ज़िक्र रूसी मीडिया ने दिखाया है. जहां रूसी टीवी चैनल रोसिया 24 ने रक्षा मंत्री को इसका जिक्र करते हुए दिखाया गया है.

क्या बोली रूसी मीडिया?

रूस की मीडिया ने कहा है कि रक्षा मंत्री देश के शीर्ष सैन्य अफसरों के सलाहकार मंडल से इस बात की चर्चा कर रहे थे. हालांकि इस बात का कोई स्पष्टीकरण नहीं हुआ है कि चर्चा रिकार्डेड थी या फिर इसका लाइव प्रसारण हो रहा था. अगर इसकी पुष्टि हो जाती है तो हाल के दिनों में उनकी सार्वजनिक उपस्थिति का ये पहला मौक़ा है. इससे पहले खबर आ रही थी कि उनकी तबीयत ख़राब है. आपको बता दे, रूस और यूक्रेन के बीच इस युद्ध का कोई अंत दिखाई नहीं दे रहा है. जहां पूरे विश्व की अर्थव्यवस्था बिगड़ गयी है. भारत के दो पड़ोसी देश, नेपाल और श्रीलंका इस समय अपने सबसे बुरे आर्थिक संकट का भी सामना कर रहे हैं. वहीं भारत में भी महंगाई सातवे आसमान पर है.

जहांगीरपुरी हिंसा आरोपी को पकड़ने गई पुलिस टीम पर भीड़ ने किया पथराव

Latest news